जेएनयू में मचा बवाल: ब्लैकआउट-इंटरनेट बंद, छात्रों की जिद और पत्थरबाजी

Spread the love

ABC NEWS: जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में एक बार फिर से बवाल मचा है. गुजरात दंगों पर बनी बीबीसी की बैन डॉक्यूमेंट्री ‘India: The Modi Question’ की स्क्रीनिंग को लेकर छात्र आपस में भिड़ गए, जिससे  कैंपस में तनाव के हालात हैं. एक गुट के छात्रों का आरोप है कि डॉक्यूमेंट्री देख रहे छात्रों पर पथराव किया गया, इंटरनेट बंद करने के साथ ही बिजली भी काट दी गई. थोड़ी देर के बाद कैंपस में बिजली बहाल कर दी गई, लेकिन इस बीच स्क्रीनिंग देखने वाले छात्रों पर पथराव किया गया.

अभी तक इस बवाल पर जेएनयू प्रशासन की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है और ना ही स्टूडेंट यूनियन ने भी कोई औपचारिक बयान जारी नहीं किया है, लेकिन कैंपस में छात्रों का विरोध प्रदर्शन तेज हो गया है.

10 प्वाइंट्स में जानिए पूरे बवाल की कहानी

1. कुछ दिन पहले ही जेएनयू ने बीबीसी की विवादित डॉक्यूमेंट्री, जिसपर सरकार ने बैन लगाया है, उसे नहीं दिखाने का फैसला किया था, लेकिन JNUSU ने ऐलान किया कि वो अपनी तरफ से छात्रों के लिए इस डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग करेगा.

2. मंगलवार की देर शाम स्क्रीनिंग की तैयारी थी कि पूरे कैंपस की बिजली काट दी गई. पूरे कैंपस में ब्लैकआउट हो गया. इंटरनेट बंद कर दिया गया. लेकिन जिद पर अड़े छात्रों ने अपने-अपने मोबाइल और लैपटॉप पर स्क्रीनिंग की तैयारी कर रहे थे. उनपर पथराव किया गया.

3.बिजली काटने की वजह से ब्लैकआउट को लेकर सभी छात्रों ने कैंपस के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. थोड़ी देर के बाद बिजली बहाल कर दी गई. घटना के बाद छात्रों के दो गुटों के बीच तनाव जारी है.

4. छात्रों  पथराव से पहले JNUSU की तरफ से जेएनयू प्रशासन को एक चिट्ठी लिखी गई थी और पूछा गया था कि कौन से कानून के तहत उन्हें डॉक्यूमेंट्री देखने से रोका जा रहा है. उस पत्र का उन्हें कोई जवाब नहीं दिया गया.

5.मंगलवार को जब छात्रों ने मोबाइल पर बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री देखी तो उन पर पथराव किया गया. पथराव के बाद छात्रों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंचा और जेएनयू कैंपस एक बार फिर बवाल का केंद्र बन गया है.

6.पत्थरबाजी की घटना के बाद भड़के छात्रों ने यूनिवर्सिटी कैंपस से वसंतकुंज थाने तक पैदल मार्च निकाला. पुलिस स्टेशन के बाहर पहुंचने पर छात्रों ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

7.दिल्ली पुलिस की ओर से कहा गया कि हमें अभी जेएनयू के मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है. जैसे ही हमें शिकायत मिलेगी, हम उस पर कार्रवाई करेंगे. बता दें कि दिल्ली पुलिस जेएनयू के गेट के बाहर पहुंच गई है.

8.जेएनयू के नाराज छात्रों ने अपनी शिकायत वसंत कुंज थाने में दर्ज कराई और फिर उन्होंने अपना धरना खत्म किया. इसको लेकर आज जेएनयू प्रशासन से भी शिकायत की जाएगी. दिल्ली पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया है कि पथराव की घटना में 25 लोग शामिल थे.

9.मंगलवार को हुई इस घटना ने जेएनयू में तनाव बढ़ा दिया है. घटना में छात्रों के बीच हाथापाई और गाली-गलौज भी हुई है, जमकर ईंट-पत्थर फेंके गए हैं. मौके पर पुलिस पहुंची और स्थिति को कंट्रोल करने की कोशिश की. JNUSU ने कहा है कि वो  प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाला है.उस कॉन्फ्रेंस के बाद ही इस विवाद से जुड़े कई पहलू स्पष्ट हो पाएंगे.

10.वहीं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) की ओर से प्रेस रिलीज जारी करते हुए बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री को औपनिवेशिक मानसिकता के पिछलग्गू और हीनताबोध का प्रतीक बताया गया है. वहीं, नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) की ओर से कहा गया है कि वो देशभर के शिक्षण संस्थानों में इस डॉक्यूमेंट्री को दिखाएगा.

 

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media