राहुल गांधी ने किया ‘एक व्यक्ति, एक पद’ का समर्थन, अशोक गहलोत को दिया संकेत

Spread the love

ABC News: कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा अपने 15वें दिन में पहुंच चुकी है. राहुल गांधी के नेतृत्व में केरल से ये यात्रा शुरू हुई. अब राहुल गांधी ने इस यात्रा के बीच प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है. राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कहा कि, हमारी ये यात्रा केरल में सफल रही है. यात्रा की सफलता के पीछे कुछ आइडिया छिपे हैं. पहला आइडिया है कि भारत नफरत को पसंद नहीं करता है. देश में महंगाई चरम पर है, लेकिन बीजेपी और आरएसएस लगातार नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं.

अध्यक्ष पद के चुनाव की गहमागहमी के बीच भारत जोड़ो यात्रा पर निकले राहुल गांधी ने आज कांग्रेस में ‘वन मैन, वन पोस्ट’ का समर्थन किया. ये संकेत है कि कांग्रेस अध्यक्ष पद की दौड़ में सबसे आगे चल रहे राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को दोहरी भूमिका निभाने के लिए दो पद नहीं मिल सकते. इससे पहले गहलोत ने संकेत दिए थे कि वे राजस्थान के सीएम और अध्यक्ष दोनों पदों पर बने रह सकते हैं. राहुल गांधी ने केरल में एक प्रेस ब्रीफिंग में कहा, “हमने उदयपुर में एक कमिटमेंट की है, मुझे उम्मीद है कि इसे बनाए रखा जाएगा.” आज पद के दावेदारों को सलाह देते हुए कहा कांग्रेस का अध्यक्ष पद वैचारिक पद है. भारत का दृष्टिकोण सामने लाता है. उन्होंने आगे कहा कि अध्यक्ष पद पर मेरी स्थिति स्पष्ट है. कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर पूछे गए सवाल पर राहुल गांधी ने कहा कि, आपको जल्द पता चल जाएगा कि क्या होने वाला है. मैंने पहले ही अपना रुख साफ कर दिया है. कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से मेरा सीधा संपर्क है. मीडिया के जरिए मुझे कुछ बताने की जरूरत नहीं है. जब राहुल से पूछा गया कि वो कांग्रेस अध्यक्ष के उम्मीदवारों को क्या सुझाव देंगे?

इस पर उन्होंने कहा, उनके लिए मैं कहना चाहूंगा कि आप एक ऐतिहासिक जगह लेने वाले हैं. यह केवल एक संगठन की जगह नहीं है. यह एक विचारधारा है. जो कांग्रेस अध्यक्ष बनें उनके पास भारत की एक विचारधार हो. राहुल ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कहा कि इसका लक्ष्य नफरत और हिंसा कम करना है. गरीबी-अमीरी की खाई बेइंतहा बढ़ी है. हिंसा और सांप्रदायिकता पर हमारी जीरो टॉलरेंस नीति है. ये यात्रा मेरी नहीं लोगों की है, मैं सिर्फ इस यात्रा का हिस्सा बना हूं.  राहुल ने कहा कि, केरल की तरह भारत जोड़ो यात्रा बाकी राज्यों में भी सफल रहेगी. हम बिहार नहीं जा रहे हैं, हम गुजरात नहीं जा रहे हैं, हम बंगाल नहीं जा रहे हैं. यात्रा एक छोर से दूसरे छोर तक की है. हम पूरे भारत की यात्रा एकसाथ नहीं कर सकते हैं. उत्तर प्रदेश में यात्रा को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि, इसे लेकर चिंता मत कीजिए हमें ये पता है कि वहां क्या करने की जरूरत है. 71 वर्षीय अशोक गहलोत को कांग्रेस अध्यक्ष के लिए गांधी परिवार की पसंद माना जाता है, लेकिन वे राजस्थान में अपनी मुख्यमंत्री की भूमिका नहीं छोड़ना चाहते. अगर वे ऐसा करते हैं तो उन्हें लगता है कि उनकी जगह सचिन पायलट ले लेंगे, जिनकी बगावत के कारण 2020 में उनकी सरकार लगभग गिरते-गिरते बची थी.

 

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media