मुलायम की तर्ज पर अखिलेश यादव का प्रचार, अलग-अलग जातियों को ऐसे साध रहे सपा प्रमुख

Spread the love

ABC NEWS: मैनपुरी लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में अब प्रचार खत्म होने में केवल दो दिन रह गए हैं. ऐसे में भाजपा और सपा ने ताकत झोंक दी है. उपचुनाव के लिए 5 दिसंबर को मतदान होना है। ऐसा पहली बार देखने को मिल रहा है कि सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव नेताजी मुलायम सिंह यादव की तर्ज पर गांव-गांव, घर-घर जाकर लोगों को अपनेपन का एहसास करा रहे हैं और नेताजी के मैनपुरी के लोगों से जुड़ाव की दुहाई देकर डिंपल यादव को जिताने का आशीर्वाद मांग रहे हैं. इस चुनाव में सपा अध्यक्ष का यह बदला रूप लोगों को काफी पसंद आ रहा है और लोग उनको भरोसा दिला रहे हैं. विधानसभा वार व्यूह रचना भी रची गई है.

मैनपुरी मुलायम सिंह यादव की कर्मस्थली रही है और 1989 के बाद से इस सीट को समाजवादी पार्टी का मजबूत गढ़ माना जाता है. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लहर के बावजूद मैनपुरी लोकसभा सीट पर भाजपा अपना केसरिया परचम फहराने में नाकाम रही. मैनपुरी को अब तक सपा का अभेद दुर्ग माना जाता है. भाजपा मैनपुरी लोकसभा सीट के उपचुनाव में जीत हासिल कर समाजवादी पार्टी के ताबूत की अंतिम कील को उखाड़ने के लिए पूरी ताकत झोंक रही है.

मैनपुरी लोकसभा सीट के जातीय समीकरण की बात करें तो यह सीट समाजवादी पार्टी का अभेद दुर्ग मानी जाती है. मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र में इटावा जिले की जसवन्तनगर विधानसभा का क्षेत्र भी शामिल है. जसवन्तनगर यादव बाहुल्य है और इटावा का जसवन्तनगर और मैनपुरी की करहल विधानसभा क्षेत्र समाजवादी पार्टी की जीत का प्रमुख आधार हमेशा से रहा है. भाजपा मैनपुरी लोकसभा सीट अब तक नहीं जीत सकी है, इसका मुख्य कारण इन दोनों विधानसभा क्षेत्रों में सपा के परंपरागत वोट माने जाने वाले यादवों का प्रतिशत अधिक है.

किशनी और मैनपुरी विधानसभा क्षेत्रों में भी यादव मतदाता अन्य जातियों की अपेक्षा अधिक हैं और मैनपुरी लोकसभा सीट का सिर्फ भोगांव विधानसभा क्षेत्र ही यादव मतदाताओं की संख्या में अपेक्षाकृत कम है. भोगांव में ब्राह्मण मतदाताओं की निर्णायक संख्या को देखते हुए समाजवादी पार्टी के बड़े-बड़े ब्राह्मण चेहरे यहां डेरा डाले हुए हैं. समाजवादी पार्टी में मंत्री रहे पवन पांडेय, विनय तिवारी, लोहियावाहिनी के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदीप तिवारी, महिला नेत्री पूजा शुक्ला सहित 100 से अधिक ब्राह्मण नेता मैनपुरी के ब्राह्मण मतदाताओं को समाजवादी पार्टी के पक्ष में मतदान करने के लिए ब्राह्मणों के घर-घर जाकर वोट मांग रहे हैं.

मैनपुरी लोकसभा सीट में ब्राह्मण मत हमेशा आमने-सामने के मुक़ाबले में निर्णायक रहे हैं. वैश्य मत भी दोनों पार्टियों को जा सकता है. मैनपुरी में शाक्य मतदाता यादवों के बाद दूसरे नम्बर पर हैं और भाजपा ने शाक्य प्रत्याशी इसी आशा के साथ उतारा है कि शाक्य का वोट भाजपा को गया तो भाजपा शाक्य और अपने परम्परागत मतों के सहारे सपा की विरासत को ढहा देगी.

नेताजी के निधन के बाद मैनपुरी के युवाओं में समाजवादी पार्टी के प्रति सहानुभूति की लहर भी है. लोहियावाहिनी के रावल सिंह यादव के साथ युवाओं की चल रही टीम के जोश को देखकर लोगों को नेताजी के संघर्ष के दिनों की याद ताजा होने लगी है.

भाजपा ने भी झोंकी पूरी ताकत

मैनपुरी में भाजपा ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी है 40 स्टार प्रचारक मैंनपुरी में डेरा डाले हुए हैं. प्रदेश सरकार के दोनों उपमुख्यमंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ की मैनपुरी में सभाएं हो चुकी हैं. भाजपा लोगों के बीच परिवारवाद को लेकर जनता के बीच जा रही है. मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ ने करहल में कहा कि सैफई परिवार ने मैनपुरी के लोगों का हक छीना है.

आरोप-प्रत्यारोप के साथ चुनाव आयोग में दस्तक

चुनाव आयोग में समाजवादी पार्टी की तरफ से मैनपुरी और इटावा के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को हटाने की मांग का ज्ञापन पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल ने दिया है. ज्ञापन में कई अन्य अधिकारियों को भी हटाने की मांग की गई है जिन्होंने प्रधानों और कोटेदारों को बीजेपी के पक्ष में कार्य करने का दबाब बनाया है.

फिलहाल मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव काफी रोचक स्थिति में है. ठंड के मौसम में भी राजनीति का तापमान काफी चढ़ गया है. पुलिस, पीएसी के साथ-साथ अर्धसैनिक बलों के जवान मैनपुरी में लगातार गश्त कर लोगों को भयमुक्त और निष्पक्ष चुनाव होने का एहसास करा रहे हैं, लेकिन राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर सुरक्षा बलों की निष्पक्ष तैनाती को लेकर भी हो रहा है.

समाजवादी पार्टी का आरोप है कि जातिगत आधार पर ड्यूटी लगाई जा रही है. मैनपुरी लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव पर प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की भी पैनी नजर है. मैनपुरी में बड़े-बड़े चैनलों की मौजूदगी भी लगातार बढ़ती जा रही है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media