श्रीकांत त्यागी पर 25 हजार का इनाम, UP STF की टीम भी लगाई पीछे, हरिद्वार में ऑन हुआ था फोन

Spread the love

ABC NEWS: नोएडा की एक सोसायटी में महिला से गुंडागर्दी करने वाले श्रीकांत त्यागी पर नोएडा पुलिस ने 25000 रुपये का इनाम घोषित किया है. फरार आरोपी की तलाश में अब पुलिस टीमों के अलावा स्पेशल टास्क फोर्स (STF) को भी लगा दिया गया है. सर्चिंग में पता चला है कि हरिद्वार में कुछ देर के लिए श्रीकांत का फोन ऑन हुआ था, फिर बंद हो गया.इससे पहले महिला के साथ अभद्र व्यवहार करने के आरोपी श्रीकांत त्यागी द्वारा उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित उनके आवास के बाहर बनाए गए ‘अवैध’ निर्माण को ढहा दिया गया.

सूत्रों के मुताबिक, त्यागी को गिरफ्तार करने के लिए नोएडा पुलिस की 8 टीमें लगाई गई हैं. कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर के थाना फेस-2 में श्रीकांत त्यागी के खिलाफ मुकदमा दर्ज है. कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर पुलिस ने फरार त्यागी पर 25000 रुपये का इनाम घोषित किया है. सोमवार को नोएडा सेक्टर 93 के ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में नोएडा अथॉरिटी के अधिकारी मजदूरों के साथ पहुंचे और श्रीकांत के अवैध निर्माण पर हथौड़ा चलाया गया. इसके बाद तुरंत बुलडोजर भी पहुंच गए और श्रीकांत त्यागी के अवैध निर्माण को ध्वस्त किया. अब तक श्रीकांत की ओर से धमकाई जाती रहीं महिलाओं ने ताली बजाकर इसका स्वागत किया. वहीं, एक दूसरे को मिठाई खिलाकर भी लोगों ने खुशी जाहिर की.

महिला संग विवाद का वीडियो हुआ था वायरल
आपको बता दें कि सोसाइटी की एक महिला ने सेक्टर-93बी में आवासीय सोसायटी में नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए श्रीकांत त्यागी द्वारा कुछ पेड़ लगाने पर आपत्ति जताई थी, जिसके बाद त्यागी ने महिला के साथ कथित तौर पर अभ्रद व्यवहार किया और उसे धक्का भी दिया था। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. मामला दर्ज होने के बाद से ही त्यागी फरार है. सोसायटी में बीती शाम से ही भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं. स्थानीय लोगों ने त्यागी को जल्द ही गिरफ्तार करने की मांग की है. इस सोसायटी में 1,000 से अधिक परिवार रहते हैं.

निलंबित हुए फेस-2 के थानाध्यक्ष
इससे पहले महिला के साथ अभद्रता के मामले में लापरवाही बरतने को लेकर पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने थाना फेस-2 के थानाध्यक्ष सुजीत उपाध्याय को सोमवार को निलंबित कर दिया. उपाध्याय की जगह अब निगरानी प्रकोष्ठ के प्रभारी परमहंस तिवारी को थाना फेज-2 का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया है. मामले में आरोपी श्रीकांत त्यागी खुद को भारतीय जनता पार्टी के किसान मोर्चा का राष्ट्रीय कार्यकारी सदस्य और इसकी युवा समिति का राष्ट्रीय समन्वयक बताया है, जबकि पार्टी ने उससे दूरी बनाए रखी है.

 

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media