Kanpur: इलाज के लिए नहीं दौड़ना पड़ेगा हैलट और उर्सला, साउथ सिटी में हुआ 100 बेड के अस्पताल का भूमिपूजन

Spread the love

ABC News: लंबे समय से कानपुर दक्षिण में 100 बेड के प्रस्तावित अस्पताल का बुधवार को भूमि पूजन हुआ. क्षेत्रीय विधायक महेश त्रिवेदी ने अस्पताल की जमीन पर भूमि पूजन कर कार्य की शुरुआत की. बता दें कि भाजपा के कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्रीय कार्यालय के पीछे अस्पताल बनाया जा रहा है. पूजन के समय एमएलसी अरुण पाठक, जिला पंचायत अध्यक्ष समेत सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे.

बीते कई सालों से कानपुर साउथ में बड़े सरकारी अस्पताल की डिमांड की जा रही थी. 2 साल पहले केडीए ने नौबस्ता मौरंग मंडी में जमीन भी आवंटित कर दी थी. लेकिन बजट न मिलने से कार्य लटका हुआ था. अस्पताल 5 मंजिला बनाया जाएगा. अस्पताल में सभी आधुनिक सुविधाएं भी मौजूद होंगी. साउथ की 25 लाख आबादी को इसका सीधा लाभ मिलेगा. रामादेवी से पनकी के बीच कोई बड़ा अस्पताल नहीं है. दक्षिण क्षेत्र में कोई सरकारी अस्पताल न होने से हादसा, आपात स्थिति या गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए LLR अस्पताल (हैलट) या उर्सला के लिए भागना पड़ता है. इसमें कई जगहों पर भीषण जाम लगता है और कई बार लोग रास्ते में ही दम तोड़ देते हैं. अस्पताल के निर्माण में देरी होने को लेकर लोगों में आक्रोश पनप रहा था. इसका एक बड़ा कारण ये था कि अस्पताल के ठीक बगल में कानपुर-बुंदेलखंड का क्षेत्रीय कार्यालय बनकर बीते साल ही तैयार हो गया था. जबकि अस्पताल के निर्माण में लगातार देरी हो रही थी.
हॉस्पिटल में मिलेंगी ये सुविधाएं
-100 बेड का होगा अस्पताल और ICU भी होगा.
-ओपीडी, इमरजेंसी, प्रसव और इनडोर की सुविधा.
-मेडिसिन, बाल रोग, स्त्री रोग, हड्डी व सर्जरी की होगी सुविधा.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media