‘समय पर नहीं पहुंची एंबुलेंस, हॉस्पिटल में नहीं थे डॉक्टर’, कानपुर हादसे के पीड़ितों का आरोप

Spread the love

ABC NEWS: कानपुर में एक ट्रैक्टर ट्रॉली तालाब में पलट गई. चंद्रिका देवी के दर्शन कर लौट रही श्रद्धालुओं की ट्रैक्टर ट्रॉली पलट जाने से 11 बच्चों और 11 महिलाओं समेत 26 लोगों की मौत हो गई है. देर रात तक रेस्क्यू ऑपरेशन चला और तालाब से श्रद्धालुओं को निकालकर अस्पताल ले जाया गया जहां कई घायलों का उपचार चल रहा है.

शनिवार-रविवार की रात करीब तीन बजे तालाब में डूबी ट्रैक्टर ट्रॉली को बाहर निकालकर पुलिस थाने ले गई. एक तरफ राहत और बचाव कार्य को लेकर कानपुर से लेकर लखनऊ तक पुलिस और प्रशासन एक्टिव नजर आया, वहीं दूसरी तरफ पीड़ित परिवारों में व्यवस्था को लेकर आक्रोश नजर आया. हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों ने एंबुलेंस से लेकर डॉक्टर्स की उपलब्धता तक, व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं.

हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों ने आरोप लगाया है कि हम जब हॉस्पिटल में आए तो यहां कोई डॉक्टर नहीं था. पीड़ित परिवारों ने ये आरोप भी लगाया है कि तालाब से लोगों को निकालने के बाद कई लोगों को बाइक से अस्पताल तक ले जाना पड़ा क्योंकि एंबुलेंस नहीं पहुंची थी. सीएचसी भीतरगांव में अव्यवस्था का आलम नजर भी आया.

भीतरगांव सीएचसी में एक-एक बेड पर तीन-तीन शव रखे थे. हर ओर चीख-पुकार मची थी. मंजर ऐसा कि देखकर कलेजा कांप जाए. भीतरगांव सीएचसी में ही मृतकों के शव का पोस्टमॉर्टम भी कराया जाना है. इसके लिए सीएमओ की पैनल टीम अस्पताल पहुंच गई है. मृतकों के परिजनों ने शवों के पोस्टमॉर्टम के लिए सहमति दे दी है. भीतरगांव के अस्पताल में 24 शव हैं जबकि दो शव कानपुर के हैलट अस्पताल में हैं.

मंत्री बोले- दोषियों पर होगी कार्रवाई

यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री राकेश सचान ने भीतरगांव सीएचसी पहुंचकर पीड़ित परिवारों से मुलाकात की. राकेश सचान ने सभी पीड़ितों को सरकार की ओर से आवास देने का ऐलान किया और कहा कि हम मुख्यमंत्री के निर्देश पर आए हैं. उन्होंने ये भी कहा कि घटना की जांच कराई जाएगी और इसके बाद जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. पुलस पर परिजनों की ओर से लगाए गए लापरवाही के आरोप को लेकर राकेश सचान ने कहा कि एक इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया है.

मृतकों के परिजनों को एक बीघा जमीन और 4 लाख

यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री राकेश सचान ने ऐलान किया कि मृतकों के परिजनों को एक बीघा जमीन, चार लाख रुपये नकद दिए जाएंगे. उन्होंने घायलों को भी एक लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया. यूपी सरकार की एक अन्य मंत्री प्रतिभा शुक्ला ने भी घटनास्थल का मुआयना किया. प्रतिभा शुक्ला ने रोड पर बड़े-बड़े गड्ढों को लेकर सवाल पर कहा कि ये ठेकेदार की गलती और बारिश की वजह से हुआ है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media