Video: भरे मंच पर छीना गया ब्यूटी कॉन्टेस्ट की विजेता के सिर से ताज, फिर हुआ ऐसा

ABC News: स्टेज पर सरेआम लड़ाई में ताज छिन जाने के बाद सिर पर आई चोट से सौंदर्य प्रतियोगिता की ‘मिसेज श्रीलंका’ को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा. बदसूरत दृश्य उस वक्त देखने को मिला जब पुष्पिका डी सिल्वा को मिसेज श्रीलंका चुना गया और रविवार की रात समारोह में सरकारी टेलीविजन पर विजेता का ताज पहनाया गया. लेकिन इसी दौरान समारोह में मौजूद 2019 की सौंदर्य प्रतियोगिता विजेता कैरोलाइन जूरी स्टेज पर आईंऔर डि सिल्वा को अयोग्य घोषित करने का एलान किया.

उन्होंने वजह बताते हुए कहा कि डि सिल्वा मिसेज श्रीलंका के खिताब की हकदार नहीं हो सकतीं क्योंकि वो तलाकशुदा हैं. जूरी ने श्रोताओं को बताया, “प्रतियोगिता का एक नियम है जो पहले से विवाहित और तलाकशुदा महिलाओं को रोकता है, इसलिए मैं ताज छीनने का कदम उठा रही हूं.” उन्होंने ताज को डि सिल्वा के सिर से उतार लिया और उसे मंच पर ही रनर-अप को पहना दिया. सरेआम अपमान के बाद डिसिल्वा आंखों में आंसू लिए मंच से उतर आईं. सौंदर्य प्रतियोगिता के दौरान हुई अपमानजनक घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

डिसिल्वा के रिश्ते की स्थिति का खुलासा पूरी तरह स्पष्ट नहीं हो सका है. रिपोर्ट के मुताबिक, हो सकता है उनका पति से अलगाव हो गया है, लेकिन उन्होंने बताया है कि वो तलाकशुदा नहीं हैं. फेसबुक पोस्ट में उन्होंने लिखा कि घटना के बाद सिर में आई चोट का इलाज कराने के लिए उन्हें अस्पताल जाना पड़ा. डि सिल्वा ने ‘अतार्किक और अपमानजनक’ तरीके के लिए कानूनी कार्यवाही करने की बात कही है. उधर,  सौंदर्य प्रतियोगिता के आयोजकों ने डि सिल्वा से माफी मांगी है.

मिसेज श्रीलंका वर्ल्ड के राष्ट्रीय डायरेक्टर चंडामिल जयासिंघे ने कहा कि ऐसी घटना नहीं होनी चाहिए थी और विजेता के नाम का एलान जज और आयोजन समिति ने सर्वसम्मति से किया था. कोलंबो पेज नामक ऑनलाइन अखबार ने बताया कि उन्होंने जूरी के व्यवहार को माफ नहीं किया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, डि सिल्वा को सौंदर्य प्रतियोगिता मिस श्रीलंका 2021 का खिताब वापस सौंप दिया जाएगा.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media