कानपुर में जुलूस-ए-मोहम्मदी की इजाजत न मिलने पर हंगामा, भीड़ ने पुलिस को घेरा

ABC NEWS: कानपुर में मिलाद उन नबी के मौके पर जुलूस-ए-मोहम्मदी निकालने की इजाजत नहीं मिलने पर जमकर हंगामा हुआ. इस मौके पर बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के युवक सड़क पर आकर प्रदर्शन और नारेबाजी करने लगे. हंगामे की सूचना पर बड़ी संख्‍या में पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभाल लिया. युवकों की भीड़ ने पुलिस बल को भी घेर लिया.

ईद मिलादुन्नबी पर उठने वाले जुलूस-ए-मोहम्मदी को लेकर सद्भावना चौकी के पास अचानक से बड़ी संख्या में भीड़ जुट गई. भीड़ में मौजूद लोगों ने जुलूस निकालने की मांग शुरू कर दी. इस पर वहां मौजूद धर्म गुरुओं ने भीड़ को समझाने का प्रयास किया. भीड़ में मौजूद लोग परेड ग्राउंड से फूलबाग की ओर जाना चाहते थे, लेकिन काफी समझाने के बाद भीड़ नई सड़क की ओर बढ़ गई. जुलूस पर प्रतिबंध होने के चलते परेड ग्राउंड के सभी गेटों में ताले डालकर बंद किया गया और भारी पुलिस बल तैनात की गई है.

पैगंबर-ए-इस्लाम के जन्मदिवस पर अरबी महीने रबी उल अव्वल की 12 तारीख को ईद मिलादुन्नबी के दिन परेड ग्राउंड से फूलबाग तक जुलूस-ए मोहम्मदी निकाला जाता था. इस वर्ष कोविड-19 की गाइड लाइन का हवाला देते हुए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने धर्म गुरुओं के साथ बैठक करके जुलूस न निकालने का फैसला किया था. मंगलवार को इसे लेकर पुलिस ने तैयारियां कर ली थीं. जुलूस उठने के स्थान परेड ग्राउंड ग्राउंड के सभी गेटों में पुलिस ने ताला डलवाने के साथ पुलिस बल तैनात किया गया था. मंगलवार दोपहर करीब 1:30 बजे अचानक से पांच सौ लोगों की भीड़ सद्भावना चौकी पहुंची.

चौकी का घेराव करते हुए जुलूस निकालने की मांग शुरू कर दी. इस पर पुलिस ने धर्म गुरुओं के माध्यम से लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन हुजूम जुलूस निकालने की मांग को लेकर अड़ा रहा। भीड़ में मौजूद कुछ लोगों ने परेड की ओर बढ़ने की कोशिश की तो पुलिस कर्मियों ने घेराबंदी करके उन्हें रोका. देखते-देखते भीड़ में लोगों की संख्या बढ़ती चली गई. धर्म गुरुओं के समझाने के बाद भी लोग नहीं माने. परेड की ओर न जाकर हाथों में झंडे लिये नारेबाजी करते हुए वे नई सड़क की ओर बढ़ गए। सड़कों पर भीड़ के चलते नई सड़क पर जाम की स्थिति बन गई. बाद में भीड़ पेच बाग के अंदर मुड़ गई. हालात अब समान्य है. एडीसीपी पूर्वी सोमेंद्र मीणा कई थानों के फोर्स के साथ भीड़ के साथ चलते रहे. उन्होंने बताया कि सब ठीक है। कानून ब्यवस्था का संकट नहीं है.

पुलिस ने किसी तरह समझा-बुझाकर स्थिति को नियंत्रण में लिया. इस दौरान वहां थोड़ी देर के लिए भगदड़ भी मच गई थी. इसमें कई लोगों के घायल भी सूचना है. हंगामे को लेकर क्षेत्र में तनाव की स्थिति बन गई है. मौके पर भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात है. वरिष्‍ठ अधिकारी लोगों को समझाने की कोशिश कर रहे हैं. गौरतलब है कि कोविड गाइडलाइन के चलते जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी गई है. जमीयत पहले ही एलान कर चुकी थी कि वह जुलूस नहीं निकालेगी. इसके बावजूद लोग सुबह से जुलूस के लिए दबाव बनाते रहे. पुलिस की सख्ती के चलते एक घंटे बाद स्थिति सामान्य हुई. तब भीड़ गलियों की तरफ चली गई.

दोपहर बाद स्थिति फिर तनाव पूर्ण हो गई. लोग चौराहे पर इक्‍ट्ठा होकर हाथों में झंडे लिए नारेबाजी करने लगे. उन्हें चौराहे से आगे बढ़ने नहीं दिया गया. जिस स्थान से जुलूस निकाला जाना था पुलिस ने उसे सील कर दिया गया है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media