अचानक गिरा कानपुर और आसपास के क्षेत्र का तापमान, जल्द शीत लहर के शुरू होने के आसार

ABC NEWS: कानपुर में आसमान साफ होने और पहाड़ों से आ रहीं तेज रफ्तार बर्फीली हवाओं ने मंगलवार/बुधवार की रात पारा 09.6 डिग्री सेल्सियस गिरा दिया. सीजन का यह सबसे कम तापमान है. चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय के मौसम विभाग का मानना है कि यदि बदली न हुई और तेज हवाएं जारी रहीं तो शीघ्र ही शीत लहरी का सामना करना पड़ सकता है.

शनिवार को रात का तापमान 17.2 (न्यूनतम पारा) डिग्री सेल्सियस था. बुधवार सुबह यह गिरकर 09.6 डिग्री सेल्सियस हो गया. चार दिनों में रात के तापमान में 07.6 डिग्री सेल्सियस कमी आ गई. आमतौर पर इस तरह का उतार चढ़ाव कम ही देखने में आता है। तापमान गिरने से सर्दी बढ़ गई. इसका असर रात के तीसरे पहर में अधिक पड़ा.

क्यों गिरा अचानक तापमान

मंगलवार को आसमान साफ था. दिन का पारा 28.2 डिग्री सेल्सियस रहा. दूसरे पहाड़ों से आने वाली सर्द हवाओं की गति औसतन 05.8 किमी प्रति घंटा थी. ऐसे में रात का पारा गिरने की पूरी संभावना थी.

तापमान कम होने के दो कारण

सीएसए के मौसम विज्ञानी और जलवायु अनुसंधान प्रमुख डॉ. एसएन पांडेय के अनुसार तापमान दो कारणों से गिरता है. एक तो साफ आसमान, जिसकी वजह से सतह से गर्मी तेजी से वापस लौटती है, इसे रेडिएशनल कूलिंग कहते हैं. उत्तर पश्चिम भारत में अब आसमान साफ है. सर्दी बढ़ने का दूसरा कारण है, हिमालय से होकर गुजरने वाली उत्तर-पश्चिमी ठंडी और शुष्क हवाएं. इन हवाओं के मैदानी इलाकों में पहुंचते ही ठंड बढ़ जाती है. यह हवाएं भी अब चलने लगी हैं। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार राज्य में अगले पांच दिनों तक मौसम शुष्क रहेगा जिसकी वजह से तापमान में कमी आएगी. एयर क्वालिटी भी सही रहेगी. साथ ही सर्द हवाएं बढ़ेंगी.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media