कश्मीर से पकड़े गए आतंकियों का था खतरनाक मंसूबा, रामजन्मभूमि निशाने पर!

ABC NEWS: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में सुरक्षाबलों को एक बार फिर से बड़ी सफलता मिली है. जम्मू कश्मीर पुलिस ने शनिवार को जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है. जम्मू कश्मीर के आईजीपी विजय कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आतंकवादी, इजहार खान को एक पाक-आधारित कमांडर ने पानीपत ऑयल रिफाइनरी की टोह लेने के लिए कहा था, ऐसा करने के बाद उसने पाकिस्तान में बैठे अपने कमांडर को वीडियो भेजा था. इसके अलावा उसे अयोध्या में राम मंदिर की टोह करने का काम सौंपा गया था, लेकिन इससे पहले उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी 15 अगस्त से पहले जम्मू में वाहन आधारित आईईडी लगाने की योजना बना रहे थे. उन्होंने बताया कि यूपी के शामली के रहने वाले आतंकी इजहार खान ने खुलासा किया कि पाकिस्तान में एक जैश कमांडर ने उसे अमृतसर के पास से हथियार इकट्ठा करने के लिए कहा था जिसे ड्रोन के जरिए गिराया जाना था.

हमले को अंजाम देने के लिए तैयार किए गए थे चार आतंकी
जानकारी मिली है कि पिछले कुछ दिनों से पाकिस्तान में बैठा जैश का कमांडर शाहिद इलियास जम्मू और उसके बाहर धमाके करने और कश्मीर में हथियार भेजने के लिए साजिश रच रहा था. इस काम के लिए उसने कुछ लोगों को तैयार किया था. इसमें कश्मीर का रहने वाला आतंकी अबरार भी शामिल था जो कि पाकिस्तान में बैठे आतंकियों की मदद ले रहा था. इसके लिए चार आतंकी तैयार किए गए थे.

इससे पहले सैफुल्लाह और तौसीफ नाम के दो आतंकियों को भी गिरफ्तार किया जा चुका है. ये आतंकी मोटर साइकिल खरीदने और ड्रोन के जरिए हथियार भेजे जाने से पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए. आईजीपी ने जानकारी दी कि इजहार नाम के आतंकी को अयोध्या राम मंदिर निर्माण की रेकी करने के साथ ही सरयू नदी के पानी की गहराई नापने का भी काम दिया गया था.

बताया जा रहा है कि ये आतंकी अयोध्या में बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थे. अपने टारगेट के हिसाब से आतंकियों ने पानीपत रिफाइनरी के बारे में जानकारी जुटाने का काम कर लिया था लेकिन अयोध्या के बारे में ऐसा कुछ होने से पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

मोटरसाइकिल पर आईईडी फिट करने का मिला था काम
आईजीपी ने बताया कि उनकी टीम तकरीबन 20-25 दिन से इस पर काम कर रही थी. उन्होंने कहा कि सीमा पार शाहिद एक जैश का आतंकी इनको निर्देश दे रहा था. उन्होंने कहा कि उसकी तरफ से ये मॉड्यूल खड़ा किया गया था जिसमें बहुत लोग शामिल हैं. उन्होंने कहा कि अब तक हमने ऐसे चार आतंकी पकडे़ हैं. उन्होंने बताया कि हमने चार संदिग्धों को गिरफ्तार किया था जिसमें एक यूपी और तीन कश्मीर के हैं.

उन्होंने बताया कि तौसीफ ने कबूला है कि जैश के कमांडर के कहने पर जम्मू मे एक कमरा लिया था उसमें एक मोटरसाइकिल पर आईईडी फिट कर हमला करना था. उन्होंने बताया कि यूपी के शामली का जो आतंकी पकड़ा गया है वह कश्मीर के आतंकियों और जैश के कमांडरों के संपर्क में था. उन्होंने बताया कि इसने ही पानीपत रिफानयरी की रेकी की थी और फिर इसे अमृतसर से हथियार रिसीव करने थे और रामजन्मभूमि की रेकी करनी थी लेकिन ये दोनों काम से पहले ये पकड़ा गया.

उन्होंने कहा कि ये हमारी खुफिया विंग का इनपुट था और उसी आधार पर हमने इनको पकड़ा था ये सब 15 अगस्त पर हमला करने की प्लानिंग कर रहे थे लेकिन उससे पहले इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media