SIT ने माना कि कानपुर के कारोबारी मनीष की हत्या की गयी, फोन पर मीनाक्षी को बताया

ABC NEWS: गोरखपुर स्थित होटल कृष्णा पैलेस में 28 सितम्बर की सुबह तड़के कानपुर के रियल स्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता के मौत की जांचकर रही स्पेशल इनवेस्टीगेशन टीम (SIT) के अधिकारियों ने पत्नी मीनाक्षी गुप्ता को फोन पर बातचीत के दौरान बताया है कि मनीष की हत्या हुई थी. ये प्रूव हो चुका है. हत्या के मामले में आरोपित पुलिसवालों को SIT जल्द ही गिरफ्तार कर जेल भेज देगी. मीनाक्षी बताती हैं कि उन्हें एसआईटी की जांच पर भरोसा है लेकिन SIT के पास उनके सारे सवालों के जवाब नहीं है. इसलिए वो चाहती है कि इस हत्याकांड की जांच CBI से करायी जाय.

मीनाक्षी ने पुलिसवालों के रवैये को लेकर कहा कि पुलिस ने मनीष के साथ ऐसा बर्ताव किया मानो वह कोई अपराधी हो. पुलिसवालों ने उनका सिर दीवार पर पटक-पटककर उन्हें मौत के घाट उतार दिया. मीनाक्षी ने बताया कि मनीष के साथ होटल में रुके दोनों दोस्तों ने इस बात की जानकारी दी थी. आगे उनका कहना कि पुलिस वहां पर औचक चेकिंग करने नहीं बल्कि मेरे पति मनीष को जान से मारने गई थी. उन्होंने बातचीत के दौरान बताया कि गोरखुपर पहुचकर जब मैंने मनीष के शव को देखा तो उनके सिर के दोनों तरफ गहरे चोट के निशान थे. पुलिसवालों ने इतनी बेरहमी से पटका था कि उनके कान के बगल वाली हड्डी धंस गई थी. उनका कहना है कि पुलिसवालों ने जरूर मनीष के सिर को कई बार दीवार पर पटका होगा तभी उन्हें इतनी गंभीर चोटें आईं थी.

मीनाक्षी ने कहा कि इतनी क्रूरता के बाद भी पुलिसवालों का मन नहीं भरा. उन्हें यकीन है कि  पुलिस ने उनके पति को अपने सर्विस पिस्टल के पिछले हिस्से के बट से भी पीटा होगा. जिस कारण मनीष की मौत हो गई. गोरखपुर पुलिस, डॉक्टर या सरकारी अमले के किसी भी अधिकारी पर अविश्वास जताते हुए मीनाक्षी ने कहा कि वहां के लोग पुलिसवालों को बचाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं. आगे उन्होंनें कानपुर से गोरखपुर के लिए रवाना हुई स्पेशल इनवेस्टीगेशन टीम (SIT) पर भरोसा जताते हुए कहा कि फिलहाल टीम सही जांच कर रही है मगर कुछ सवालों के जवाब उनके पास भी नहीं है.

मीनाक्षी ने गोरखपुर पुलिस को लेकर कहा कि पुलिसवालों ने मनीष की हत्या के बाद गुमराह करने के लिए बहुत कहानी बनाने का प्रयास किया था. एक बार तो पुलिसवालों ने होटल कृष्णा पैलेस की डीवीआर भी गायब करा दी थी मगर वहां पर मेरा साथ देने वाले लोग इतने सक्रिय हो गए थे कि उन्होंने ऐसा कुछ होने नहीं दिया. यही कारण है कि पुलिसवालों की सच्चाई खुलकर सबके सामने आ गई. जांच करेगी तो ठीक रहेगा

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media