कानपुर में ट्रिपल मर्डर से सनसनी, घर के अंदर दंपती और उनके बेटे की गला काटकर हत्या

ABC NEWS: कानपुर के व्यापारी की गोरखपुर में हत्या की जांच सीबीआइ से कराने की उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिश के 12 घंटे के अंदर ही कानपुर शहर में ट्रिपल मर्डर से सनसनी फैल गई. यहां पर परचून की दुकान चलाने वाले के साथ ही उसकी पत्नी तथा बेटे की गला काटकर हत्या कर दी गई.  एक साथ तीन-तीन हत्‍याओं ने पुलिस के लिए बड़ी चुनौती पेश की है.

कानपुर शहर के फजलगंज में शनिवार की सुबह दंपती और उनके 12 साल की बेटी की हत्या की घटना से सनसनी फैली गई. तिहरे हत्याकांड की जानकारी होते ही पुलिस और फोरेंसिक टीम ने पहुंचकर जांच शुरू की है. वहीं घर के बाहर लोगों की भीड़ लगी हुई और राजनीतिक पाटियों के नेता भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं. दंपती घर पर ही बाहर बड़े भाई के नाम से परचून की दुकान चलाकर परिवार पाल रहा था. पुलिस ने परचून दुकानदार, उसकी पत्नी और बेटे का शव बरामद करके फॉरेंसिक जांच शुरू कराई है. पुलिस अफसर भी मौके पर पहुंच गए हैं.

फजलगंज चौराहे से गोविंद नगर के रास्ते पर उपनिदेशक विद्युत सुरक्षा कार्यालय के पास मकान में राजकिशोर, पत्नी गीता देवी उर्फ बेबी और 12 वर्षीय बेटे नैतिक के साथ रह रहे थे. मकान के बाहर ही बड़े भाई प्रेम किशोर जनरल स्टोर के नाम से परचून की दुकान चलाकर परिवार का भरण पोषण करते थे. शनिवार की सुबह लगभग 8:30 बजे पड़ोसी राजेश ने राजकिशोर के भाई प्रेमकिशोर को फोन किया तो उनकी बेटी निकिता ने बात की. राजेश ने उसे बताया कि राजकिशोर के घर के बाहर ताला लगा है और एक व्यक्ति उनकी बाइक ले जाते दिखा है. इसपर राजकिशोर परिवार के साथ घर पहुंचे तो मकान और दुकान पर ताले लगे मिले। मोबाइल फोन पर कॉल किया लेकिन किसी ने रिसीव नहीं किया. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई.

मौके पर आई पुलिस दुकान के ताले तोड़कर घर के अंदर दाखिल हुई तो नजारा देखकर सभी दंग रह गए. मकान के अंदर राजकिशोर, उनकी पत्नी और बेटे के रक्तरंजित शव पड़े थे. तीनों के सिर पर किसी भारी वस्तु से हमला करके हत्या की गई और सिर काे पॉलिथीन से कसकर बांधा गया था. तीनों के शवों को एक जगह लाने के बाद कंबल डालकर हत्या फरार हो गया. तिहरे हत्याकांड की जानकारी के बाद डीसीपी क्राइम सलमान ताज पाटील भी पहुंचे और डॉग स्क्वायड व फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया. घटना की जानकारी होते ही लोगों की भीड़ एकत्र हो गई. पुलिस अधिकारियों का मानना है कि हत्यारों ने घटना को लूटपाट दर्शाने की कोशिश की है लेकिन यह लूट नहीं बल्कि पूरी प्लानिंग के साथ पति, पत्नी और बच्चे की हत्या की गई है. हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है.

सीसीटीवी खंगाल रही पुलिस की टीम
थानेदार ने बताया मृतक पति पत्नी और बेटे हैं. फोरेंसिक टीम को मौके पर है. टीम घटना के सभी पहलुओं की जांच करेगी. आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है. पुलिस उच्चाधिकारी मौके पर हैं. पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है. वारदात के बारे में सुराग लगाने के लिए मौके पर मौजूद लोगों से पूछताछ की जा रही है.

विधायक मैथानी और सपा नेता भी पहुंचे : तिहरे हत्याकांड की सूचना मिलने के बाद विधायक सुरेंद्र मैथानी मौके पर पहुंच गए, वहीं सपा नेता विकास यादव भी मौके पर पहुंच गए हैं.

कानपुर में बढ़ा अपराध का ग्राफ: कानपुर में गोरखपुर हत्याकांड की आंच अभी ठंडी भी नहीं पड़ पाई है कि शहर में अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है. कानपुर के सचेंडी थानाक्षेत्र में टिकरा गांव पास दो दिन पहले भाजपा कार्यकर्ता और बिल्डिंग मैटीरियल कारोबारी की हत्या के दूसरे दिन ही तिहरे हत्याकांड से शहर में सनसनी फैली गई है. टिकरा गांव में बाबा मार्केट के पास गुरुवार को पंचायत चुनाव की रंजिश में भाजपा कार्यकर्ता और भवन निर्माण सामग्री के कारोबारी रौतेपुर गांव के 28 वर्षीय धर्मेंद्र सिंह उर्फ सोनू को दिन दहाड़े गोली मार दी गई थी, उसकी अस्पताल में मौत हो गई थी. पुलिस मुकदमा दर्ज करके आरोपितों की तलाश कर रही है. इस घटना के दूसरे दिन तिहरे हत्याकांड से सनसनी फैल गई है. पुलिस के लिए शहर की कानून व्यवस्था कायम रखना चुनौती बन गया है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media