पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री रहे विजय सिंगला गिरफ्तार, सीएम मान के पद से हटाते ही एक्शन

Spread the love

ABC News: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने स्वास्थ्य मंत्री डॉ. विजय सिंगला को अपनी कैबिनेट से हटा दिया है. बताया जा रहा है कि उन पर रिश्वत लेने के आरोप लगे हैं, जिसके बाद उन्हें मंत्रिमंडल से बाहर का रास्ता दिखाया गया है. पंजाब पुलिस की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देश पर डॉ. विजय सिंगला के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. करीब 10 वर्ष पहले विजय सिंगला आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे. इस बार के पंजाब विधानसभा चुनाव में डॉ. विजय सिंगला ने मानसा से प्रसिद्ध गायक और कांग्रेस उम्मीदवार सिद्धू मूसेवाला को 60,000 से अधिक वोटों से हराया था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक विजय सिंगला ने ठेके के आवंटन में कॉन्ट्रैक्टर से 1% कमीशन की मांग रखी थी. उनके खिलाफ पक्के सबूत मिलने के बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने का फैसला लिया. अपने मंत्री के खिलाफ कार्रवाई करते हुए मुख्यमंत्री मान ने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल ने मुझे कहा था कि मैं एक पैसे की रिश्तखोरी, बेईमानी बर्दाश्त नहीं करूं. मैंने उन्हें वचन दिया था ऐसा नहीं होगा. हम आंदोलन से निकले हुए लोग हैं, और वह आंदोलन भ्रष्टाचार के खिलाफ था.’ पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आगे कहा, ‘मेरे ध्यान में एक केस आया. इस केस में मेरी सरकार का मंत्री शामिल था. एक ठेके में मेरी सरकार का मंत्री 1 फीसदी कमीशन मांग रहा था. इस केस का सिर्फ मुझे पता था. इस केस को दबाया जा सकता था. लेकिन ऐसा करना पंजाब की जनता के साथ धोखा होता. इसलिए मैं उस मंत्री के खिलाफ एक्शन ले रहा हूं. तुरंत एक्शन लिया जा रहा है. मंत्री का नाम विजय सिंगला है और उनके खिलाफ पुलिस को केस दर्ज करने का निर्देश दे दिया गया है.’

सीएम मान ने कहा, यह सुनिश्चित करने के लिए विजय सिंगला पर कार्रवाई की गई है कि अन्य मंत्री भ्रष्ट आचरण से मुक्त रहें. उधर विजय सिंगला ने इन आरोपों को निराधार बताया है. इस घटनाक्रम के बाद पंजाब के विपक्षी दल सक्रिय हो गए हैं और उन्होंने आम आदमी पार्टी की सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. डॉ. विजय सिंगला लंबे समय से मानसा रोड सिविल अस्पताल के पास डेंटल क्लीनिक चला रहे हैं. उनकी पत्नी अनीता सिंगला भी बीएएमएस हैं और बेटा चेतन सिंगला एमडी की पढ़ाई कर रहा है. गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरिविंद कजरीवाल ने पंजाब को एक भ्रष्टाचार मुक्त सरकार देने का वादा किया था. उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान ऐलान किया था कि यदि आम आदमी पार्टी की सरकार बनती है, तो पंजाब को भ्रष्टाचार मुक्त शासन मिलेगा. अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि उनका कोई भी विधायक या मंत्री भ्रष्टाचार में संलिप्त पाया जाएगा, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media