महोबा में बोले PM मोदी- किसानों की समस्याओं को उलझाए रखना कुछ राजनीतिक दलों का आधार

ABC News: कृषि कानूनों की वापसी के ऐलान के साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज यूपी के तीन दिवसीय दौरे पर आए हैं. उन्‍होंने महोबा, हमीरपुर, बांदा व ललितपुर में 3,240 करोड़ रुपये की अर्जुन सहायक परियोजना, भावनी बांध परियोजना, रतौली बांध परियोजना, मसगांव-चिल्ली स्प्रिंकलर परियोजना का लोकार्पण किया. इस मौके पर उन्‍होंने तीन तलाक के बहाने मुस्लिम महिलाओं को संदेश देने की कोशिश की. इससे पहले, मुख्यमंत्री ने आल्हा-ऊदल की प्रतिमा भेंट करके और शॉल ओढ़ाकर प्रधानमंत्री का स्वागत किया. मुख्यमंत्री के संबोधन के बाद प्रधानमंत्री ने 32 अरब 64 करोड़ 74 हजार रुपये लागत की परियोजनाओं का तोहफा दिया. पीएम ने बटन दबाकर पेयजल परियोजनाओं का शुभारंभ किया. बटन दबाते ही अर्जुन बांध और कबरइ बांध का से जल का प्रवाह शुरू हो गया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि जौन महोबा की धरा में अल्हा ऊदल और वीर चंदेलों की वीरता कण कण में समाई है, वह महोबा के वासियों को हमाओ कोटि-कोट प्रणाम पहुंचे. कहा, जनजाति सप्ताह मनाया जा रहा है, इस समय में आल्हा ऊदल की भूमि पर आना मेरा बहुत बड़ा सौभाग्य है. गुलामी के उस दौर में भारत में एक नई चेतना जगाने वाले गुरुनानक देव का प्रकाशपर्व है, जिसकी अनेक अनेक शुभकामनाएं देता हूं. आज ही भारत की वीर बेटी और बुंदेलखंड की शाम वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई की जयंती भी है. यहां से मैं झांसी जाऊंगा, जहां डिफेंस का बड़ा कार्यक्रम चल रहा है. कहा, बीते सालों में हम कैसे कमरों में बंद भारत सरकार को देश के कोने कोने में लाए हैं, महोबा इसका साक्षात उदाहरण है. कुछ महीने पहले यहां से पूरे देश के लिए उज्जवाला योजना के दूसरे चरण की शुरुआत की गई. मुझे याद है कुछ साल पहले मैंने महोबा से ही देश की करोड़ों मुस्लिम बहनों को वादा किया था कि मैं मुस्लिम बहनों को तीन तलाक से मुक्ति दिलाकर रहूंगा, महोबा में किया वादा अब पूरा हो चुका है.

पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश में लंबे समय तक शासन करने वालों ने बारी बारी से इस क्षेत्र को उजाड़ने में कोई कमी नहीं छोड़ी. यहां के जंगलों को, यहां के संसाधनों को कैसे माफिया के हवाले किया गया ये किसी से छिपा नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि अब जब इन्हीं माफियाओं पर यूपी में बुलडोजर चल रहा है तो कुछ लोग हाय-तौबा मचा रहे हैं. ये लोग कितनी भी तौबा मचा लें, यूपी के विकास के काम, बुंदेलखंड के विकास के काम रूकने वाले नहीं हैं. पीएम मोदी ने कहा कि बुंदेलखंड को लूटकर पहले की सरकार चलाने वालों ने अपने परिवार का भला किया. आपके परिवार बूंद-बूंद के लिए तरसता रहे, इससे उनको कोई सरोकार नहीं रहा. पहली बार बुंदेलखंड के लोग विकास के लिए काम करने वाली सरकार देख रहे हैं. वो उ.प्र. को लूटकर नहीं थकते थे, हम काम करते नहीं थकते।किसानों को हमेशा समस्याओं में उलझाए रखना ही कुछ राजनीतिक दलों का आधार रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि ये समस्याओं की राजनीति करते हैं और हम समाधान की राष्ट्रनीति करते हैं. केन-बेतवा लिंक का समाधान भी हमारी ही सरकार ने निकाला है, सभी पक्षों से संवाद करके रास्ता निकाला है. परिवारवादियों की सरकारें किसानों को सिर्फ अभाव में रखना चाहती थीं. वो किसानों के नाम से घोषणाएं करते थे, लेकिन किसान तक पाई भी नहीं पहुंचती थी.
जबकि पीएम किसान सम्मान निधि से हमने अब तक 1 लाख 62 हज़ार करोड़ रुपए सीधे किसानों के बैंक खातों में भेजे हैं. हम बुंदेलखंड से पलायन को रोकने के लिए इस क्षेत्र को रोज़गार में आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे और यूपी डिफेंस कॉरिडोर भी इसका एक बहुत बड़ा प्रमाण है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media