उल्लासित अयोध्या में नए युग के सूत्रपात की तैयारी, इस मामले में पहले PM होंगे मोदी

ABC News: रामनगरी के उत्तरी छोर पर प्रवाहमान सरयू की लहरों में इस समय उत्साह चरम पर है. जिस तरह से अयोध्या को संवारा जा रहा है, वह इस रामनगरी में एक नए युग की आहट को सुनाता प्रतीत हो रहा है. उदाहरण के लिए रामकी पैड़ी का कायाकल्प विस्मृत करने वाला लगता है. हर किसी को इंतजार है पांच अगस्त के उस पल का जब प्रधानमी नरेंद्र मोदी, यहां पर राम मंदिर के निर्माण की आधारशिला को रखेंगे.

अयोध्या में होने वाले इस कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा काफी सतर्क है. सुरक्षा के लिए नयाघाट से फैजाबाद तक कदम-दर-कदम बैरिकेडिंग के प्रबंध हो रहे हैं और सड़क से लेकर बिजली की लाइन तक का कायाकल्प चल रहा है. इस स्थलों में हनुमानगढ़ी से लेकर साकेत महाविद्यालय तक का इलाका शामिल है. सड़क पर गड्ढों में महीन गिट्टी एवं तारकोल पैबस्त हो रहा है.

पावर कार्पोरेशन लटके तारों को बदल कर निर्बाध बिजली व्यवस्था सुनिश्चित कराने की जिद्दोजहद कर रहा है. नगर निगम प्रशासन सफाई की मुहिम को महापौर रिषिकेश उपाध्याय के मार्गदर्शन में अंतिम रूप दे रहा है.

रामलला के दरबार आने वाले पहले पीएम होंंगी नरेंद्र मोदी
आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जो रामलला के दरबार में उपस्थित होंगे. बतौर प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी का अयोध्‍या आना तो हुआ, पर रामलला के दर्शन का सुयोग नहीं बना. मोदी पांच अगस्‍त को प्रधानमंत्री रहते न केवल रामलला का दर्शन-पूजन करेंगे, बल्कि जन्मभूमि पर राम मंदिर की आधारशिला भी रखेंगे.

उन्‍होंने प्रधानमंत्री बनने के पहले भी रामलला का दर्शन किया था. जनवरी, 1992 में वह तत्कालीन भाजपाध्यक्ष डॉ.मुरली मनोहर जोशी के साथ अयोध्‍या आए थे और उनके साथ रामलला का दर्शन-पूजन किया था.

इससे पहले नौ नवंबर, 1989 को राजीव गांधी के प्रधानमंत्री रहते जन्मभूमि पर रामलला के मंदिर के लिए शिलान्यास हुआ था, लेकिन खुद राजीव गांधी अयोध्या नहीं आए थे, बल्कि दिगंबर अखाड़ा के महंत रामचंद्रदास परमहंस, गोरक्षपीठ के महंत रहे अवेद्यनाथ, विहिप के शीर्ष नेता अशोक सिंहल और कामेश्वर चौपाल आदि ने मंदिर के लिए शिलान्यास किया था. जहां तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात है, वह वर्ष 2009, 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में यहां सभा कर चुके हैं। उस वक्‍त वह राम जन्‍मभूमि नहीं आए थे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media