महंत नरेंद्र गिरि हत्याकांड: CBI के हाथ लगा ऑडियो क्लिप, जेल पहुंचकर आनंद गिरि का लिया वॉइस सैंपल

ABC NEWS: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी (Mahant Narendra Giri) की संदिग्ध मौत मामले में जांच कर रही सीबीआई (CBI) टीम ने शुक्रवार को मुख्य आरोपी आनंद गिरि (Anand Giri) का वॉइस सैंपल ले लिया है. नैनी सेंट्रल जेल पहुंचकर सीबीआई टीम ने विशेषज्ञों की मदद से वॉयस रिकॉर्डिंग की है. जिसे अब जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा जाएगा. सूत्रों के मुताबिक दो अन्य आरोपियों आद्या प्रसाद तिवारी व संदीप तिवारी का भी वायस सैंपल जल्द ही लिया जाएगा. मामले में मुख्य आरोपी आनंद गिरी का वॉइस सैंपल लिए जाने की सीजेएम कोर्ट ने मंजूरी दे दी थी.

गौरतलब है कि 20 सितंबर को महंत नरेंद्र गिरी संदिग्ध हालतमें श्री मठ बाघम्बरी गद्दी के गेस्ट हाउस के कमरे में मृत पाए गए थे. 25 सितंबर से सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है. सीबीआई ने सेशन कोर्ट में अर्जी दाखिल कर जेल में बंद तीन आरोपियों समेत पांच लोगों की वॉइस सैंपल की अनुमति मांगी थी. कोर्ट की अनुमति मिलने के बाद सीबीआई टीम ने नैनी जेल पहुंचकर आनन्द गिरी से बातचीत की और वॉयस सैंपल लिया है. सूत्रों का कहना है कि सीबीआई के हाथ कुछ ऑडियो क्लिप लगी है जिसमें आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी के अलावा दो अन्य लोगों के भी आवाज है.

सीबीआई के हाथ लगी ऑडियो क्लिप
यह कहा जा है कि आडिय में जो आवाज सुनाई पड़ रही है. वह कहीं न कहीं महंत नरेंद्र गिरी की मौत से जुड़ी है. महंत नरेंद्र गिरी की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए सीबीआई ने ऑडियो क्लिप में सुनाई दे रही वॉइस की पुष्टि के लिए ही वॉइस सैंपल लेने का निर्णय लिया है. सूत्रों के मुताबिक फिलहाल आनंद गिरि का ही वायस सैंपल लिया जा सका है.आद्या प्रसाद तिवारी व संदीप तिवारी व दो अन्य लोगों के वायस सैंपल जल्द लिया जाएगा. आवश्यक वस्तु अधिनियम स्पेशल कोर्ट ने 12 नवंबर को सीबीआई को वॉइस सैंपल लेने की अनुमति दे दी थी.

न्यायिक हिरासत बढ़ाने पर आज होगी सुनवाई
वहीं महंत नरेंद्र गिरि मौत मामले में जेल भेजे गए तीनों आरोपियों आनंद गिरि आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी की न्यायिक हिरासत बढ़ाने के मामले में सीजेएम कोर्ट आज सुनवाई करेगी. सीजीएम हरेन्द्र नाथ की कोर्ट 12 नवंबर को 8 दिन के लिए न्यायिक हिरासत बढ़ाई थी. जो न्यायिक हिरासत आज खत्म हो रही है. तीनों आरोपी नैनी सेंट्रल जेल में बंद है हालांकि आनंद गिरि के वकील आज न्यायिक हिरासत बढ़ाने का विरोध कर सकते हैं. दोपहर बाद इस मामले की सुनवाई होनी है. आनंद गिरि के वकीलों का कहना यह है कि पुलिस आनंद गिरि की कस्टडी रिमांड लेकर और हरिद्वार ले जाकर अपनी जांच पड़ताल व पूछताछ कर चुकी है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media