Lohri Celebration: 13 जनवरी को है लोहड़ी, जानिए क्यों मनाया जाता है यह पर्व

ABC News: हर साल देशभर में मकर संक्रांति के एक दिन पहले लोहड़ी का त्योहार मनाया जाता है, जो इस साल 13 जनवरी को है. पंजाब और हरियाणा में खासतौर पर मनाया जाने वाला यह त्योहार नव विवाहित जोड़ों के लिए खास महत्व रखता है. अग्नि के चारों ओर नव विवाहित जोड़ा रबी की फसलों जैसे मक्का, तिल, गेहूं, सरसों, चना आदि की आहुति देते हुए चक्कर लगाकर अपनी सुखी वैवाहिक जीवन की प्रार्थना करते हैं. इस दिन विवाहिता लड़कियों के पीहर से ससुराल में रेवड़ी, गजक, मिठाई, नए कपड़े, मूंगफली आदि भेजे जाते हैं.

इसके अलावा जिस घर में बच्चे का जन्म होता है, उस परिवार के लोग भी धूम-धाम से लोहड़ी का त्योहार मनाते हैं. लोहड़ी के दिन अग्नि में तिल, गुड़, गजक, रेवड़ी और मूंगफली चढ़ाई जाती हैं. पारंपरिक तौर पर लोहड़ी फसल की बुआई और उसकी कटाई से जुड़ा एक विशेष त्योहार है. दरअसल, नई फसलों को पकने की खुशी मनाने के लिए इस त्योहार का आयोजन किया जाता है.

हर तरफ धूम-धाम होती है और युवा खुशी में झूमते गाते हैं. इसके एक दिन बाद मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाता है, जब सूर्य उत्तरायण होते हैं. लोहड़ी और मकर संक्रांति में तिल और गुड़ का खास महत्व है. यह त्योहार मौसम के बदलने, शरद ऋतु के समाप्त होने और बसंत ऋतु के आने की आहट भी देता है. किसान लोहड़ी में फसल का अंश अर्पित करते हैं और लोहड़ी के आसपास जमकर नाचते-गाते हैं.

दूल्हा-भट्टी की कहानी
लोहड़ी में दुल्ला भट्टी का भी नाम लिया जाता है. बताया जाता है कि अकबर के दौर में पंजाब में दुल्ला भट्टी नाम का एक शख्स रहता था. वह अमीरों और जमीदारों से धन लूटकर गरीबो में बांटता था. एक दिन जब उसे पता चला कि हिंदू युवतियों को जबरन बेचा जा रहा है, तो उन्होंने लड़कियों को आजाद करवाकर हिंदू अनुष्ठानों के साथ उन सभी लडकियों की शादी भी करवाई थी. इसलिए आज भी लोहड़ी के गीतों में दुल्ला भट्टी का आभार व्यक्त करने के लिए उनका नाम जरुर लिया जाता है.


यह भी पढ़ें…

शिव आराधना में प्रदोष का है बड़ा महत्व, इस दिन पड़ेगी नए साल की पहली प्रदोष

40 सिक्खों के साथ 10 लाख मुगलों को गुरु गोविंद सिंह ने चटाई थी धूल, ये है चमकोर के ऐतिहासिक युद्ध की कहानी

VIDEO- एक रात में भूतों ने बनाया था ये अद्भुत शिवमंदिर, दिन में तीन बार बदलता है शिवलिंग का रंग


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें FacebookTwitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-  ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media , Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login-  www.abcnews.media