कानपुर के बर्रा-2 हत्याकांड का खुलासा: गोद ली हुई बेटी ने प्रेमी संग मिलकर मां-बाप को चापड़ से काट डाला

Spread the love

ABC NEWS: कानपुर के बर्रा में हुए लोमहर्षक बुजुर्ग हत्याकांड का खुलासा हो गया है और आरोपी निकली उनकी गोद ली हुई बेटी जिसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर मां-बाप की हत्या कर दी. बेटी ने रात को मां-बाप और भाई को जूस में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया. जब सब बेहोश हो गए तो देर रात को प्रेमी को बुलाया. फिर मां-बाप की चापड़ से गला काटकर हत्या कर दी. वारदात के बाद जब प्रेमी चला गया तो उसने शोर मचाया. घर के सेकंड फ्लोर में सो रहा भाई आया तो उसने बताया कि तीन नकाबपोश लोगों ने हत्या की है.

पुलिस आयुक्त विजय सिंह मीना ने बताया कि दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश हो गया है. आकांक्षा ने कबूल किया है कि उसने संपत्ति के लालच में वारदात को अंजाम दिया. वह भाई को भी मार डालना चाहती थी. फरार प्रेमी की तलाश की जा रही है.

वह 5 वजह जिससे आरोपी बेटी की साजिश पकड़ी गई

  • जिस घर में वारदात हुई वह महज 47 वर्ग मीटर में बनी EWS कॉलोनी है। पति-पत्नी की चापड़ से गर्दन काटकर हत्या की गई. लेकिन घर में मौजूद बेटे और बेटी को इस बात का पता नहीं चला. इस बात पर पुलिस यकीन नहीं कर पा रही थी.
  • मां, रात को बेटी के साथ सोई थी। कब उठकर पति के पास चली गई. घटनाक्रम क्या रहा जब नकाबपोश हत्यारे घर में घुसे थे, तो उन्होंने शोर क्यों नहीं मचाया. इन सब बातों का जवाब बेटी कोमल नहीं दे सकी.
  • पुलिस ने CCTV फुटेज की जांच की तो देर रात एक युवक घर में घुसते हुए दिखाई दिया. दरवाजा पहले ही अंदर से खुला था। बगैर कुंडी खटखटाए भीतर दाखिल हो गया. करीब सवा घंटे बाद बाहर निकला. गमछे से अपना मुंह बांधे हुए था. युवक घर जाते समय खाली हाथ था, लेकिन लौटते समय एक झोला हाथ में था. यह युवक कोई और नहीं युवती का प्रेमी था.
  • पुलिस ने मृतक दंपती के बेटी की जांच की तो उसके दोनों हाथों में चोट के निशान मिले. इसके साथ ही बेंजाडीन टेस्ट में उसके दोनों हाथ खून से सने मिले. प्रेमी के हाथ में भी खून मिला. इतना ही नहीं युवती ने अपने कपड़े भी रात में बदले थे. धुले हुए कपड़ों में भी खून के धब्बे मिले हैं.
  • पूछताछ के दौरान मृतक के बेटे अनूप ने बताया कि देर रात उसकी बहन कोमल ने जूस पीने के लिए दिया था. उसने थोड़ा सा ही जूस पिया, स्वाद अच्छा नहीं लगने पर उसने छोड़ दिया. थोड़ी देर बाद उसे चक्कर आने लगा और बेहोश हो गया. सुबह बहन चिल्लाई तब हत्याकांड की जानकारी हुई. इससे शक और गहरा गया है कि बहन ने ही भाई को नशीला जूस दिया थ।

महाराजपुर के प्रेमपुर निवासी फील्ड गन फैक्ट्री से सेवानिवृत्त 65 वर्षीय मुन्नालाल उत्तम करीब 25 वर्ष से पत्नी राजदेवी, बेटे विपिन और बेटी आकांक्षा के साथ बर्रा दो स्थित मकान में रहते थे. मुन्नालाल के कोई बेटी नहीं थी, इसीलिए उन्होंने अपने भाई रामप्रकाश की बेटी आकांक्षा को गोद ले लिया था. बेटी ने पुलिस को भी उसने गुमराह करने की कोशिश की. वह रोने का नाटक करती रही. लेकिन, सीसीटीवी फुटेज और मौका-ए-वारदात पर मिले सबूत के आधार पर पुलिस ने 10 घंटे में मामले का खुलासा कर दिया. पुलिस ने आरोपी बेटी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस का कहना है कि दो वजह से लड़की ने मां-बाप की हत्या की. पहली, वह प्रेमी से शादी का विरोध कर रहे थे. दूसरा-पिता के नाम करोड़ों की प्रॉपर्टी थी. बेटी और प्रेमी उसे हथियाना चाहते थे.

एक कमरे में मिली दोनों की लाश
बर्रा-2 इलाके में EWS कॉलोनी में रहने वाले 61 साल के मुन्ना लाल ऑर्डिनेंस फैक्ट्री से सुपरवाइजर पद से रिटायर हुए थे. घर में 55 साल की उनकी पत्नी राजदेवी, बेटी कोमल और बेटा अनूप रहता है. सोमवार सुबह घर में ही मुन्ना लाल और उनकी पत्नी राजदेवी की हत्या कर दी गई. दोनों की लाश एक कमरे में मिली. हत्या चापड़ से गला काटकर की गई. बेटी कोमल ने शोर मचाया तो ऊपर की फ्लोर में सो रहा बेटा अनूप दौड़ता हुआ नीचे आया. मां-बाप की खून से लथपथ लाश देखकर वह सन्न रह गया.

बेटी बोली थी- तीन नकाबपोश को भागते हुए देखा
इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस मौके पर पहुंची. बेटी कोमल ने पूछताछ के दौरान बताया, “पापा बाहर वाले कमरे में सो रहे थे. मैं मां के साथ बीच वाले कमरे में सो रही थी. भाई पहली मंजिल पर सो रहा था. हत्या कब हुई, यह नहीं पता. कुछ आहट होने पर आंख खुली तो मैंने तीन नकाबपोश को घर से भागते हुए देखा.”

भाभी के भाई पर लगाया हत्या का आरोप
शुरुआती पूछताछ में कोमल ने मां-बाप की हत्या का शक अपनी भाभी के भाई पर किया. उसने बताया कि भाई अनूप की शादी 2017 में बिंदकी की रहने वाली सोनिका के साथ हुई थी. शादी के एक सप्ताह बाद ही सोनिका मायके चली गई फिर लौटकर नहीं आई. इसके बाद से अनूप और सोनिका का कोर्ट केस चल रहा है.

अनूप ने बताया कि बहन के चीखने पर नीचे आया, तो देखा कि माता और पिता के शव बाहर वाले कमरे में पड़े थे.

कोमल ने सोनिका के परिवार वालों पर हत्या का आरोप लगाया। कहा, “24 जून को कोर्ट में तारीख पर इलाके में ही रहने वाले सोनिका के बड़े भाई सुरेंद्र ने 50 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग की थी. धमकाते हुए कहा था कि रुपए नहीं दिए, तो पूरे परिवार को खत्म कर दूंगा.” भाई अनूप ने भी हत्या का शक अपनी पत्नी के भाई सुरेंद्र पर जाहिर किया.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media