Kanpur: अब इनकम टैक्स रिटर्न में नहीं छिपा सकेंगे आय, नया सिस्टम ऐसे करेगा काम

ABC News: अब आयकर विभाग से अपनी कमाई छिपाना आसान नहीं होगा. लंबे इंतजार के बाद आयकर विभाग ने एनुअल इन्फार्मेशन स्टेटमेंट (एआईएस) सुविधा जारी कर दी है. इस स्टेटमेंट में शेयर, म्यूचुअल फंड, बैंक एफडी, बचत खाते पर मिलने वाले ब्याज और पोस्ट आफिस आदि से होने वाली आय का पूरा ब्योरा रहेगा। आयकर विभाग ने सलाह दी है कि आईटीआर भरने से एआईएस जरूर चेक कर लें.


कर सलाहकारों का कहना है कि पिछले बजट में एनुअल इन्फार्मेशन स्टेटमेंट की घोषणा की गई थी, जिसे अब लागू कर दिया गया है. अभी आय के अन्य स्रोतों की जानकारी न देने से इनकम टैक्स रिटर्न मिसमैच हो जाते हैं. जिसके बाद आयकर विभाग नोटिस भेजता है. अन्य स्रोतों से होने वाली आय को 65 फीसदी आयकरदाता छिपा जाते हैं. अब करदाता अपने इनकम टैक्स रिटर्न को फाइल करने से पहले नए एआईएस से सत्यापित कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि आईटीआर फाइलिंग की प्रक्रिया को और सरल बनाने के लिए शेयरों से होने वाले कैपिटल गेन, डिविडेंड इनकम और बैंकों व पोस्ट ऑफिस से मिलने वाले ब्याज पहले से ही इनकम टैक्स रिटर्न में भरी मिलेंगी. वर्तमान में वेतन, टैक्स पेमेंट और टीडीएस आदि की जानकारी फार्म 26एएस में पहले से रहती हैं. एनुअल इन्फार्मेशन स्टेटमेंट डाउनलोड करने के लिए इनकम टैक्स पोर्टल पर पैन और पासवर्ड की मदद से लॉग-इन करना होगा. फिर सर्विस टैब के जरिए एनुअल इन्फार्मेशन स्टेटमेंट पर पहुंचा जा सकेगा.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media