Kanpur: अमर दुबे की पत्नी की मां लड़ेंगी कल्याणपुर से चुनाव! कांग्रेस ने मारी बाजी

ABC News: बिकरू कांड में दो दिन की ब्याही बहू को आरोपित बनाए जाने से पुलिसिया उत्पीड़न को लेकर विरोधी पार्टियों ने ब्राह्मण कार्ड खेलना शुरू कर दिया था. बसपा के वरिष्ठ नेताओं ने सभाओं से मुद्​दा उठाया था तो सपा ने पीड़िता के परिवार पर डोरे डालने शुरू कर दिये थे लेकिन इन सबके बीच कांग्रेस बाजी मारती दिखाई दे रही है. बिकरू कांड में आरोपित रही बहू की मां गायत्री तिवारी से कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा ने संपर्क किया और अब विधानसभा चुनाव में कल्याणपुर सीट से उतारने की सुगबुगाहट तेज हो गई है.
दो जुलाई 2020 की रात चौबेपुर के बिकरू गांव में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या में मुख्य आरोपित विकास दुबे के खास गुर्गे अमर दुबे को पुलिस ने एनकाउंटर में मार दिया था. घटना से दो दिन पहले ही उसकी शादी हुई थी और नई नवेली बहू घर में थी. पुलिस ने अमर दुबे की पत्नी को भी हिरासत में लेने के बाद उसे भी साजिश रचने समेत कई मामलों में आरोपित बना दिया था, जिसकी सुनवाई कोर्ट में विचाराधीन है. किशोर न्याय बोर्ड से नाबालिग होने की पुष्टि के बाद उसे बाराबंकी राजकीय संप्रेक्षण गृह भेज दिया गया था. इस दौरान उसकी मां गायत्री तिवारी ने बेटी पर पुलिसिया उत्पीड़न के आरोप लगाए थे. इसके बाद कई राजनीतिक दल के नेताओं ने गायत्री तिवारी से संपर्क किया था. बसपा के शीर्षस्थ नेताओं ने चुनाव से पहले आयोजित जनसभाओं में दो दिन की दुल्हन का आरोपित बनाने समेत कई आरोप प्रदेश सरकार और पुलिस पर लगाते हुए मुद्​दा बनाया था. इस मुद्​दे को उठाने के पीछे सिर्फ ब्रह्मणों को एकजुट करना था. इसके बाद सपा ने भी आरोपित बहू के मायके पक्ष से संपर्क करना शुरू कर दिया था. वहीं कांग्रेस की ओर से भी बिकरू कांड में एनकाउंटर में मारे गए आरोपित अमर दुबे की सास को चुनाव लड़ने का अाॅफर किया था. वहीं सपा के पूर्व नगर महामंत्री वरुण मिश्रा के घर पर स्थित पार्टी कार्यालय में सोमवार को गायत्री तिवारी को बुलाकर सपा नेता मेजर आशीष चतुर्वेदी ने गोविंदनगर सीट से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव रखा था. कांग्रेस के पदाधिकारी गायत्री तिवारी को लेकर दिल्ली गए थे.
गायत्री तिवारी की मुलाकात कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा से कराई गई. प्रियंका वाड्रा ने उन्हें चुनाव लड़ने के लिए प्रस्ताव रखा है और कल्याणपुर सीट से टिकट देने का आश्वासन दिया है. माना जा रहा है कि अगले एक दो दिन में जारी होने वाली कांग्रेस प्रत्याशियों की चौथी सूची में उनका नाम आ सकता है. कांग्रेस पदाधिकारी के मुताबिक उन्हें कांग्रेस की सदस्यता दिलाने के बाद टिकट देने की प्रक्रिया पूरी होगी. गौरतलब हो कि गायत्री तिवारी की बेटी को बिकरू कांड में गलत आरोपित बनाये जाने का मामला एक बार फिर गर्म होने के आसार बन गए हैं. सभी पार्टियां ब्राह्मण वोट बैंक साधने के लिए गायत्री पर डोरे डालती रही हैं. कांग्रेस भी अब न्याय दिलाने की लड़ाई में ब्राह्मण वोटों पर निशाना साधने की फिराक में है. कानपुर शहर की कई सीटों में ब्राह्मण मतदाता सबसे ज्यादा संख्या में हैं. इसमें कल्याणपुर और गोविंदनगर विधानसभा क्षेत्र भी आते हैं. चुनाव के समय इसे भी मुद्दा बनाने की तैयारी हो सकती है. गायत्री के मुताबिक उनके लिए बेटी को इंसाफ दिलाना प्राथमिकता है.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media