Kanpur: छाती पर मैं जिंदा हूं लिखकर धरने पर बैठा बुजुर्ग, कुछ ऐसी है दर्दनाक कहानी

ABC News: कानपुर में एक बुजुर्ग ने कुछ ऐसा किया कि अब वो सुर्खियों में बन गया है. यहां पर एक बुजुर्ग कमिश्नर आवास पर पहुंचा तो लोगों की भीड़ लग गई. दरअसल बुजुर्ग न्याय मांगने के लिए कमिश्नर आवास पहुंचा था. उसने अपने सीने पर पेंट से लिखा था मैं जिंदा हूं. बुजुर्ग को देखने के लिए कमिश्नर आवास के बाहर लोगों भीड़ जमा हो गई. बाद में कमिश्नर को जैसे ही इस बात की जानकारी मिली तो वे बाहर पहुंचे और उसकी बात सुनी. बुजुर्ग की बात सुन कर वहां मौजूद सभी लोग चौंक गए. दरअसल बुजुर्ग ने अपनी जो समस्या बताई उसको सुन कर सभी हैरान थे.

बुजुर्ग किसी और से नहीं बल्कि अपने ही बेटे और बहू से परेशान थे. उनके बेटे और बहू ने उसे मृत घोषित कर मकान का सौदा कर दिया और बुजुर्ग को घर से निकलवा दिया. कानुपर के तेजाब मिल कैंपस में रहने वाले शिव कुमार शुक्ला के दो बेटे थे उनमें से छोटे बेटे अनूप की मौत हो गई और बड़ा बेटा और बहू ने घर में कब्जा कर लिया था. वहीं छोटे बेटे की मौत के बाद घर का एक हिस्सा भी बेच दिया. अब बुजुर्ग कहां रहे इस बात की समस्या हुई तो उसने कानून का दरवाजा खटखटाने के बारे में सोचा और कमिश्नर कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए.हंगामे की जानकारी मिलते ही मौके पर एसीपी कर्नलगंज त्रिपुरारी पांडे भी पहुंचे और बुजुर्ग को समझा कर धरना खत्म करवाया. इसके बाद वे उन्हें अपने साथ कार्यालय लेकर आए. यहां पर उन्होंने शिवकुमार के बड़े बेटे को भी अपने कार्यालय बुलाया और पूरा मामला समझा. इसके बाद एसीपी ने बेटे को हिदायत दी कि वो सही तरीके से बुजुर्ग की देखभाल करे और उन्हें घर में रखे. इसके साथ ही उन्होंने बुजुर्ग को आश्वासन दिया कि भविष्य में ऐसा नहीं होगा. साथ ही उन्होंने बुजुर्ग को अपना फोन नंबर दिया और किसी भी स्थिति में कोई परेशानी होने पर फोन करने की बात कही. एसीपी के आश्वासन के बाद बुजुर्ग शांत हुए और अपने बेटे के साथ वापस घर लौट गए.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media