Kanpur: 20 लाख लोगों को झेलना पड़ा पेयजल संकट, वॉटर लाइन शिफ्टिंग बनी वजह

Spread the love

ABC News: शहर में 20 लाख लोगों को पीने के पानी का संकट बुधवार को झेलना पड़ा. कानपुर मेट्रो वर्क के चलते एक और वाटर लाइन की शिफ्टिंग का कार्य बुधवार को बेनाझाबर तिराहे पर किया गया. इससे शाम 6 बजे तक वाटर सप्लाई बंद रही. इसके अलावा गंगा बैराज प्लांट भी सुबह 10 से 12 बजे तक बंद रहा. पानी की पाइप लाइन की शिफ्टिंग की वजह से प्लांट ही शाम को चल पाया. इससे बमुश्किल 5 लाख लोगों को जलापूर्ति हो सकी मगर सभी को लो प्रेशर से ही पानी मिल पाया.

जलकल द्वारा एक दिन पहले ही शहरवासियों को इसकी सूचना देने के कारण पूर्व की अपेक्षा दिक्कतें कम हुईं. जलकल ने कहा था कि बेनाझाबर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से बुधवार को शहर में जलापूर्ति बाधित रहेगी लिहाजा सुबह ही पानी स्टोर कर लें. कानपुर मेट्रो के पिलर डालने के लिए बेनाझाबर रोड पर पानी की पाइप लाइन शिफ्ट करने के लिए सुबह 9 बजे से अपराह्न 3 बजे तक शट डाउन के लिए यूपीएमआरसी ने पत्र लिखा था. इससे दिन भर कच्चा पानी भैरो घाट और निचली गंगा नहर से बेनाझाबर प्लांट तक नहीं पहुंचा. प्लांट 3 बजे के बाद चालू भी हुआ तो 20 लाख की आबादी को भरपूर जलापूर्ति संभव नहीं हो पाई. जलकल के अवर अभियंता मुख्यालय रविकांत ने बताया कि देर शाम प्लांट चलाकर आपूर्ति तो की गई मगर सभी को पानी नहीं मिल सका.
इन क्षेत्रों में रहा जलसंकट
पीरोड, प्रेमनगर, सीसामऊ, परमट, ग्वालटोली, कौशलपुरी, दर्शनपुरवा, हर्ष नगर, आर्य नगर, विजय नगर, शास्त्री नगर, अशोक नगर समेत अन्य दर्जनों एरियाज में पानी लो प्रेशर से सप्लाई हुआ.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media