6 अप्रैल को बृहस्पति बदलेंगे अपनी राशि, इन राशि के जातकों का बदलेगा भाग्य

ABC News: गुरु को ग्रहों का देवता माना जाता है. ऐसी मान्यता है कि करियर और नेम-फेम यदि चाहिए तो आपके कुंडली में गुरु का मजबूत होना जरूरी है. आपको बता दें कि अप्रैल में गुरु राशि परिवर्तन करने वाले हैं. पहले ही हफ्ते यानी 6 अप्रैल को गुरु शनि की कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे. जिस दिन मंगलवार पड़ रहा है. गुरु शाम 6 बजकर 1 मिनट पर कुंभ राशि में प्रवेश करने वाले है. ऐसे में इन 6 राशियों को इसका जबरदस्त हो सकता है…

मेष राशि: मेष राशि में गुरु उनके 9वें और 12वें भाव के स्‍वामी माने गए है. गुरु का कुंभ राशि में गोचर के बाद मेष 11वें भाव में प्रवेश कर जायेंगे. जिसके परिणाम स्‍वरूप आपको आर्थिक लाभ मिलेगा. नौकरीपेशा लोगों को नए जॉब के ऑफर मिल सकते है. आय में वृद्धि होने की संभावना है. इस दौरान आपकी सोची हुईमहत्‍वाकांक्षाएं भी पूर्ण होने के योग है.
मिथुन राशि:  मिथुन राशि वालों के कुंडली में गुरु सातवें और दसवें भाव के स्वामी होते है. जो गोचर के बाद नौवें भाव में चले जायेंगे. जिससे वैवाहिक जीवन सुखमय हो जायेगा. जातक के प्रमोशन की संभावनाएं हैं. कार्यक्षेत्र या व्यापार में भी सफलता मिल सकती है.
सिंह राशि: सिंह राशि की कुंडली में गुरु पांचवें और आठवें भाव के स्वामी होते हैं. जो गोचर के समय सातवें भाव में प्रवेश करेंगे. जिससे सिंह राशि के जातकों का लव लाइव शानदार हो जायेगा. कार्य क्षेत्र में तरक्की मिलेगी. समाज में उनका वर्चस्व बढ़ेगा. व्यापार में भी लाभ होने की पूरी संभावना.
तुला राशि: गुरु का राशि परिवर्तन तुला राशि के जातकों के लिए बेहद शुभ परिणाम देने वाला है. आमतौर पर गुरु तुला राशि की कुंडली में तीसरे व सातवें भाव में के स्वामी माने जाते हैं. लेकिन गोचर के समय यह पांचवें भाव में प्रवेश करेंगे. जो विद्यार्थियों के लिए काफी लाभदायक साबित होने वाला है. इस दौरान संतान की ओर से कुछ खुशखबरी मिल सकती है. आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी.
धनु राशि: गुरु धनु राशि के स्वामी माने गए है. जो कुंडली में तीसरे भाव में गोचर करने वाले हैं. जिससे धनु राशि के जातकों का आत्मविश्वास और मनोबल बढ़ेगा. धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी. कार्यक्षेत्र में तरक्की के योग हैं. व्यापार में नई डील मिल सकती है.
मीन राशि: मीन राशि के जातकों के स्वामी भी गुरु माने गए हैं. आमतौर पर वह पहले व 10वें भाव में होते हैं लेकिन गोचर के बाद वह 12 भाव में प्रवेश कर जाएंगे. जिसका शुभ परिणाम मीन राशि के जातकों को होगा. इस दौरान विदेश यात्रा के योग बन सकते हैं. व्यापार संबंधी कोई छोटी यात्रा भी करनी पड़ सकती है. घर पर कोई मांगलिक कार्य होंगे. हालांकि खर्चों में वृद्धि होने की भी संभावना है.

डिसक्लेमर : इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है. विभिन्न माध्यमों  ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं. हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें. इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media