जेएनयू हिंसा: वाट्सअप ग्रुप से जुड़े लोगों के फोन जब्त करने का आदेश

  • दो ग्रुप के 37 लोगों की हुई पहचान
  • ये है यूनिटी ऑफ फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस
  • पुलिस ने कोर्ट को तस्वीरें भी दिखायीं

ABC NEWS: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय  में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट  में सुनवाई के दौरान अदालत को दिल्ली पुलिस ने मामले से जुड़े 2 वाट्सएप ग्रुप के 37 सदस्यों की पहचान किए जाने की जानकारी दी. दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को बताया है कि उसने जेएनयू हिंसा मामले में ‘यूनिटी ऑफ ‘फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस’ वाट्सएप ग्रुप के सदस्यों की पहचान की है. मामले से जुड़ी दूसरी छात्रा सुचेता से क्राइम ब्रांच की टीम पूछताछ करेगी. इस पर कोर्ट ने पुलिस को आदेश दिया है कि वह इन दोनों वाट्सएप ग्रुट से जुड़े लोगों का फोन जब्त कर ले.

वाट्सएप ग्रुप के लोगों से होगी पूछताछ: दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट और फ्रेंड्स ऑफ आरएसएस वाट्सएप ग्रुप के लोगों के फोन जब्त करने के साथ-साथ इनसे जुड़े लोगों को तलब कर पूछताछ करने का भी आदेश दिया है. आपको बता दें कि JNU में 5 जनवरी को हुई हिंसा के मामले में इन दोनों ग्रुप का नाम सामने आया था. इस मामले में गूगल (Google) को भी डाटा संरक्षित करने के लिए कहा गया है.

दिल्ली पुलिस ने दिखाई तस्वीरें: इधर, दिल्ली पुलिस ने जो तस्वीरें दिखाई हैं, जिनमें छात्राएं दिख रहीं हैं, इसी में से एक एमए की छात्रा सुचेता तालुकदार है, जिसे आज क्राइम ब्रांच की sit में अपना स्टेटमेंट देना है. इसी फोटो के आधार पर सुचेता को बुलाया गया है. पुलिस के मुताबिक लाल कपड़ों में सुचेता है.


सुचेता ने कहा- कब की फोटो पता नहीं: इधर, सुचेता ने दिल्ली पुलिस की दिखाई तस्वीरों पर कहा कि दिल्ली पुलिस का कॉन्फ्रेंस था, उसमें एक फोटो दिखाकर कहा कि ये मैं हूं, मेरी समझ में नहीं आ रहा है कि क्यों? सुचेता ने कहा कि मैं स्टूडेंट रिप्रेजेंटेटिव हूं. अगर मैं यहां खड़ी हूं और कोई फोटो खींचकर भेज दे और कहे कि यह मेरी तस्वीर है? कब का फोटो है, किस डेट का है, मेरी समझ में नहीं आ रहा. उन्होंने कहा कि 5 जनवरी को मुझे कई छात्रों का फोन आया था कि बहुत वॉयलेंस हो रहा है. मैं स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज पर खड़ी थी. जिसे मारा गया वो मेरे स्कूल का है. लोग आकर बोले कि बहुत को मारा गया है, मेरा फर्ज है वहां जाना.


नेहा तिवारी                                                             यह भी पढ़ें…..

पुलवामा हमले की जांच पर अधीर रंजन के सवाल पर बीजेपी ने किया पलटवार

डीएसपी से मिलकर साजिश रची गयी थी सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेने की

ऐसा व्यवहार कर रहे हो, जैसे जामा मस्जिद पाकिस्तान में हो: दिल्ली HC की टिप्पणी


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें FacebookTwitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-  ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media , Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login-  www.abcnews.media