इजरायली दूतावास में धमाके करने वाले जैश ने देश के दूसरे शहरों में भी दी धमकी

ABC NEWS: राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को इजरायल दूतावास के बाहर हुए धमाके (Israel Embassy Blast) के बाद लगातार नए खुलासे हो रहे हैं. जांच एजेंसियां हर एंगल को ध्यान में रखते हुए मामले की तफ्तीश कर रही है. शनिवार को जैश उल हिंद (Jaish Ul Hind) नाम के एक आतंकी संगठन ने इस ब्लास्ट की जिम्मेदारी ली थी. अब जांच एजेंसिया ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि कहीं इस आतंकी संगठन के तार पाकिस्तान के जैश ए मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) से तो नहीं जुड़े हैं. सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े सूत्रों ने बताया है कि ऐसा लगता है कि जैश उल हिंद पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद का ही शैडो ग्रुप है.
जांच से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक, जैश उल हिंद भारत के दूसरे बड़े शहरों में भी हमले की धमकी दी है. कहा जा रहा है कि इस आतंकी संगठन ने मैसेजिंग ऐप टेलीग्राम पर मैसेज भेजकर इस बम धमाके में अपना हाथ होने का दावा किया है. संगठन ने मैसेज में लिखा है, ‘सर्वशक्तिमान खुदा की कृपा और मदद से, जैश उल हिंद के लड़ाके दिल्ली के एक हाई सिक्योरिटी इलाके में घुसकर IED हमले को अंजाम दे पाए. भारत के बड़े शहरों को निशाना बनाने की ये एक शुरुआत है. ये भारत की सरकार द्वारा किए गए अत्याचारों का बदला है.’

धमाके में आई का इस्तेमाल
इस धमाके की जांच कर रही एजेंसियों की अब तक की तफ्तीश के मुताबिक धमाके मे डायरेक्शनल आईईडी का इस्तेमाल हुआ है. धमाके का असर एक ही तरफ यानी सिर्फ सड़क की तरफ करने की कोशिश की गई थी. इस आईडी धमाके में इलेक्ट्रॉनिक सर्किट का इस्तेमाल हुआ था और ये बैटरी द्वारा संचालित हुआ था.

कश्मीर में हुए हुए हैं ऐसे धमाके
सूत्रों के मुताबिक इस तरीके का धमाका हाल के दिनों में कश्मीर में आतंकी संगठनों ने किया है जिन्हें आईएसआई की मदद मिल रही है. इससे पहले हैदराबाद के दिलखुश नगर में आईएम मॉड्यूल में भी इस तरह का धमाका किया गया था. इन एक्सप्लोसिव की जांच एनआईए, NSG और दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल तीनों अपने-अपने स्तर पर कर रही हैं.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media