गाजियाबाद में दिल दहलाने वाली घटना: संपत्ति के लिए परिवार के पांच लोगों की हत्‍या

ABC NEWS: गाजियाबाद जिले के मुरादनगर क्षेत्र के सैंथली में एक व्‍यक्ति ने संपत्ति हड़पने के लिए भाई समेत परिवार के पांच सदस्‍यों की हत्‍या कर दी. सबसे पहले भाई की हत्‍या की, उसके बाद भाभी से शादी कर ली. इसके बाद एक एक बाद दो भतीजी और दो भतीजों की भी हत्‍या कर दी. इस षडयंत्र की शुरुआत उसने करीब 20 साल पहले की थी. गाजियाबाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

एएसपी आकाश पटेल ने बताया कि गाजियाबाद के सैंथली निवासी ब्रिजेश का इकलौता बेटा रेश 8 अगस्त को अचानक घर से लापता हो गया . कई दिन तक तलाशने के बाद भी जब उसका कोई सुराग नहीं लगा तो पिता ने मुरादनगर थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई. इसके बाद पुलिस ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस, पीडितों से बातचीत  के आधार पर ब्रिजेश के छोटे भाई लीलू की भूमिका संदिग्‍ध पाई, जांच करने पर उसके खिलाफ कई सबूत पर मिले. इसके बाद उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने सच कुबूल कर लिया. आरोपी लीलू ने पुलिस को बताया कि उसने अपने भतीजे रेशू की अपने साथी सुरेंद्र, विक्रांत और उसके भांजे मुकेश व राहुल के साथ मिलअपहरण कर हत्या कर दी. शव को बुलंदशहर के पास पहासू में नहर में डाल दिया है. सुरेंद्र यूपी पुलिस में सब इंस्‍पेक्‍टर से दो साल पहले रिटायर हुआ है. पुलिस ने लीलू, सुरेंद्र व राहुल को गिरफ्तार कर लिया. फरार आरोपी विक्रांत व मुकेश की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है.

पुलिस के अनुसार सैंथली निवासी लीलू के बड़े भाई ब्रिजेश व सुधीर थे. लीलू ने करीब बीस साल पहले सुधीर की हत्या कर दी. उसके शव को नदी में फेंक दिया. सुधीर की पत्नी से खुद शादी कर ली और भतीजी पायल व पारूल को अपने पास रख लिया. पायल को उसने जहर देकर मार दिया. उसके तीन साल बाद उसने पारूल की भी हत्या कर दी और शव को नहर में फेंक दिया और घर पर यह कह दिया कि वो अपनी मर्जी से कहीं चली गई है. सुधीर की पूरी संपत्ति पर उसने कब्जा कर लिया और जमीन को बेचकर प्रॉपर्टी का काम शुरू कर दिया.

कुछ समय बाद जब उसके पास संपत्ति खत्‍म हो गई. तो उसने दूसरे भाई ब्रिजेश की संपत्ति पर निगाह लगा ली. करीब आठ साल पहले ब्रिजेश के बड़े बेटे का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी और शव को हरनंदी में फेंक दिया। अब मौका लगते ही रेश का अपहरण कर लिया और उसकी हत्या कर दी. आरोपी के अनुसार उसका अगला निशाना ब्रिजेश व उसकी पत्नी थे. पुलिस के अनुसार परिवार का सदस्‍य होने वाली वजह से लीलू पर कभी शक नहीं गया.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media