पूर्व सपा नेता व राज्‍यसभा सांसद अमर सिंह का निधन, छह महीने से थे बीमार

ABC NEWS: पूर्व समाजवादी पार्टी नेता अमर सिंह का निधन हो गया है. वो पिछले काफी दिनों से बीमार चल रहे थे. उनका सिंगापुर  के  एक अस्पताल में इलाज चल रहा था. कुछ दिनों पहले ही उनका किडनी ट्रांसप्लांट किया गया था. शनिवार दोपहर उनका निधन हो गया.अमर सिंह की मृत्यु की खबर के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi), राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, राजनाथ सिंह और देश के कई बड़े नेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की है.

वह लगभग 6 महीने से बीमार चल रहे थे. सिंगापुर में इलाज के दौरान अमर सिंह शनिवार दोपहर जिंदगी की जंग हार गए. उनके सियासी सफर में ऊपर चढ़ने और नीचे गिरने की कहानी दो दशकों के दौरान लिखी गई. एक दौर में वो समाजवादी पार्टी के सबसे असरदार नेता थे, उनकी तूती बोलती थी लेकिन हाशिए पर भी डाले जाते रहे. समाजवादी पार्टी की कमान अखिलेश के हाथों में जाने के बाद उन्हें सपा से किनारा करना पड़ा.

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अमर सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया, वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद श्री अमर सिंह के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ. उनके परिवार, दोस्तों और शुभचिंतकों के प्रति संवेदना.

अमर सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘अमर सिंह जी एक ऊर्जावान सार्वजनिक व्यक्ति थे. पिछले कुछ दशकों में, उन्होंने करीबी तिमाहियों से कुछ प्रमुख राजनीतिक घटनाक्रम देखें. वह जीवन के कई क्षेत्रों में अपनी दोस्ती के लिए जाने जाते थे. उनके निधन से दुखी, उनके दोस्तों और परिवार के प्रति संवेदना.’

राजनाथ सिंह ने लिखी ये बातेंअमर सिंह के निधन पर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, ‘वरिष्‍ठ नेता एवं संसद श्री अमर सिंह के निधन के समाचार से दुख की अनुभूति हुई है. सर्वजनिक जीवन के दौरान उनकी सभी दलों में मित्रता थी. स्‍वभाव से विनोदी और हमेशा ऊर्जावान रहने वाले अमर सिंह जी को ईश्‍वर अपने श्रीचरणों में स्‍थान दें. उनके शोकाकुल परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं.’ वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी ट्वीट किया, ‘राज्यसभा सांसद अमर सिंह जी के दुखद निधन पर मेरी गहरी संवेदनाएं. ईश्वर से प्रार्थना है कि वे दिवंगत आत्मा को शान्ति प्रदान करें एवं शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहने की शक्ति दें. आरआईपी अमर सिंह जी.’ 

मुलायम सिंह यादव के काफी करीबी
एक जमाना था जब समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह उन पर बहुत भरोसा करते थे लेकिन पार्टी की बागडोर अखिलेश के हाथों में आने के साथ ही अमर को किनारे कर दिया गया. हालांकि एक समय ऐसा था जब अमर सिंह को पार्टी के लिए उपयुक्त माना जाता था. नेटवर्किंग से लेकर तमाम अहम जिम्मेदारियों का दारोमदार उनके कंधों पर था. 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media