कानपुर के शिवालयों में लगा भक्तों का तांता, कोरोना प्रोटोकॉल से कराए जा रहे दर्शन

ABC NEWS: आस्था के महापर्व श्रावण मास के पहले सोमवार को कानपुर के शिवालयों में भक्तों की कतार सुबह से देखने को मिली. बाबा आनंदेश्वर मंदिर, जागेश्वर महादेव मंदिर, वन खंडेश्वर मंदिर, कल्याणपुर स्थित सोमनाथ मंदिर सहित शहर के लगभग सभी शिवालयों में दर्शन को बड़ी तादाद में भक्त पहुंच रहे हैं. हर-हर महादेव के जयकारों के बीच भक्तों ने बाबा को जल अर्पित कर सुख-समृद्धि की कामना की. संक्रमण के नियमों का पालन करते हुए बाबा आनंदेश्वर मंदिर में मंगला आरती के बाद भक्तों को गर्भ गृह में प्रवेश नहीं दिया गया. टनल सिस्टम के आधार पर भक्तों ने दूर से ही बाबा का जलाभिषेक किया.

परमट में जूना अखाड़ा के पदाधिकारियों ने किया पूजन:  परमट स्थित बाबा आनंदेश्वर मंदिर में भोर पहर मंगला आरती के बाद मंदिर में भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया. पुलिस बल ने शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए एक बार में सिर्फ 50 भक्तों को ही मंदिर परिसर में प्रवेश दिया. जूना अखाड़ा के पदाधिकारी और मंदिर के पुजारियों ने गर्भ गृह में जाकर बाबा की मंगला आरती और पूजन अभिषेक किया. मंगला आरती के बाद भक्तों को गर्भ गृह के बाहर से ही दर्शन करने की प्रणाली सुचारू की गई.

जूना अखाड़ा के व्यवस्थापक इच्छा गिरी महाराज ने बताया कि प्रशासन के दिशा निर्देश पर मंदिर में व्यवस्थाएं सुचारू की जा रही हैं. सोमवार और रविवार श्रावण मास में अधिक भक्तों के आने से व्यवस्था का पालन नियमों के अनुरूप कराया जा रहा है. भक्तों के उत्साह से वातावरण शिवमय हो गया है.

जागेश्वर मंदिर में भी सुदृढ़ रही व्यवस्था: इसी प्रकार नवाबगंज स्थित जागेश्वर महादेव मंदिर में भी संक्रमण के लिए जरूरी सभी नियमों का पालन करते हुए भक्तों को सीमित संख्या में दर्शन कराए गए. मंदिर कमेटी के महामंत्री प्राण श्रीवास्तव ने बताया कि घर पर ही आरती के बाद सीमित संख्या में भक्तों को मास्क लगाकर प्रवेश दिया जा रहा है. एक बार में 5 भक्त गर्भ ग्रह में प्रवेश कर बाबा के दर्शन कर रहे हैं. पुलिस प्रशासन के साथ मंदिर प्रबंधन मिलकर भक्तों को दर्शन कराने में जुटे हुए हैं.

वनखंडेश्वर मंदिर में भक्तों ने बरता संयम:  पी रोड स्थित वनखंडेश्वर मंदिर और कल्याणपुर स्थित सोमनाथ मंदिर में भी भक्तों को शारीरिक दूरी का पालन कर आकर दर्शन कराने की व्यवस्था सुचारू है. वनखंडेश्वर मंदिर में भक्तों को मास्क की अनिवार्यता के साथ दर्शन कराया जा रहा है. मंदिर प्रबंधन कमेटी ने बताया कि मंदिर में अधिक भीड़ बढ़ने पर गर्भ गृह में किसी भी भक्तों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. संक्रमण के बीच भक्तों में आस्था और संयम का माहौल देखने को मिला. ज्यादातर शिवालयों में भक्तों ने शारीरिक दूरी और मास्क का पालन करते दिखे. पुलिस प्रशासन भी शिवालयों के बाहर भक्तों को व्यवस्थित करने के लिए भोर पहर से ही तैनात रहा.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media