कोरोना के बढ़ते केसों पर केंद्र भी अलर्ट, 10 राज्यों को जारी किए दिशानिर्देश

ABC News: देश के कई राज्यों में एक बार फिर से कोरोना वायरस पैर पसारने लगा है. देश के करीब 7 राज्यों में हर रोज तेजी से कोरोना के नए प्रकार के मामले रिकॉर्ड किए जा रहे हैं. वहीं, अब इन बढ़ते मामलों को लेकर केंद्र सरकार भी हरकत में आ गई है. ये राज्य महाराष्ट्र, केरल, छसत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और जम्मू कश्मीर हैं.

ये हाई लेवल टीम तीन सदस्यों की होगी और इसमें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी होंगे. इस टीम को जॉइंट सेक्रेटरी लेवल के अधिकारी हेड करेंगे. ये टीम ना सिर्फ इन राज्यों में मामले क्यों बढ़ रहे हैं इसका पता लगाएगी. बल्कि राज्यों के अधिकारी और स्वास्थ्य अथॉरिटी के साथ कैसे मामले कम हों, इसपर भी काम करेगी.  साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव की ओर से 7 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को भी पत्र लिखा गया है. विशेषकर महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, गुजरात, पंजाब, मध्य प्रदेश और जम्मू-कश्मीर प्रशासन को स्वास्थ्य सचिव की ओर से पत्र लिखकर कोरोना से संबंधित गाइडलाइंस को और सख्ती से अनुपालन कराने और सभी जरूरी एहतियातन कदमों को सख्ती से लागू करने के आदेश भी दिए हैं.

इसके अलावा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को संबंधित जिला अधिकारियों के साथ उभरती हुई स्थिति की नियमित समीक्षा के लिए सलाह दी गई है. ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोविड प्रबंधन में अब तक किए गए काम को कोई नुकसान न पहुंचे. केंद्र ने महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब और जम्मू और कश्मीर को भी लिखा है कि राज्य में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. खास कर कुछ जिलों में पाजिटिविटी रेट बढ़ रहा है, वहीं टेस्ट में भी कमी देखने को मिल रही है.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इन राज्यों को सलाह दी है कि कोरोना ट्रांसमिशन तोड़ने के लिए तेज़ी से काम करें. खासकर तब जब कोरोना के दो नए वैरिएंट मिले हैं. वहीं इन राज्यों को सलाह दी गई है कि वह केस बढ़ने से रोकने के लिए ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग कराएं. वहीं किसी लक्षण वाले मरीज का एंटीजन टेस्ट नेगेटिव भी आता है तो उसका RTPCR टेस्ट कराया जाए. इतना ही नहीं टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट पॉलिसी को सख्ती के साथ लागू किया जाए. बताते चलें कि कल मंगलवार को केरल के सीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की थी, जिसमें कर्नाटक सरकार की ओर से केरल से लगती हुई सीमाओं पर आवाजाही को सील कर दिया गया था. वहीं, इन राज्यों में तेजी से फैल रहे कोरोना के मामलों को लेकर केंद्र भी पूरी तरीके से गहन नजर बनाए हुए हैं.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media