CBSE छात्र पहली बार देंगे नए पैटर्न में बोर्ड Exam, जानें परीक्षा के बारे में सबकुछ

ABC News: 10वीं और  12वीं CBSE बोर्ड के 20 लाख से ज्यादा छात्र बोर्ड परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं. बोर्ड परीक्षा का पहला चरण इसी महीने 16 और 17 नंवबर से शुरू हो रहा है. 12वीं की परीक्षाएं 16 और 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं 17 नवंबर से शुरू होंगी. बोर्ड ने इस बार परीक्षाओं के पैटर्न में भी बदलाव किया है.

CBSE ने अपनी पॉलिसी में बदलाव किया है. इसके तहत अब देश भर में CBSE बोर्ड के छात्रों की दो बार परीक्षाएं ली जा रहीं हैं. बोर्ड परीक्षाओं का दूसरा चरण अगले साल मार्च-अप्रैल में कंप्लीट होगा. CBSE के मुताबिक इस बार बोर्ड परीक्षा के छात्रों को 20 मिनट का रीडिंग टाइम दिया जाएगा. पहले ये समय 15 मिनट का होता था. पहले चरण की बोर्ड परीक्षाओं में केवल बहुविकल्पीय सवाल (MCQ) पूछे जाएंगे. ये MCQ एग्जाम 90 मिनट का होगा.परीक्षा में सभी सवालों के जवाब के लिए चार ऑप्शन दिए जाएंगे. छात्र इनमें से अपना सही जवाब चुनेंगे. अगर छात्र किसी सवाल का जवाब न देना चाहें तो भी उन्हें गोला लगाना होगा. इसके लिए सवाल को खाली छोड़ देने का एक और ऑप्शन दिया जाएगा, जिसे छात्र गोला लगाकर भरेंगे. जाने-माने शिक्षाविद् पीएस कांडपाल के मुताबिक ये व्यवस्था कई अन्य एग्जाम्स में भी की जाती रही है. दरअसल सभी आंसर सीट्स को स्कैन किया जाएगा. ऐसे में कोई भी सवाल का आंसर खाली नहीं छोड़ा जा सकता. खाली छोड़ने के ऑप्शन को भी छात्रों को गोला बनाकर भरना होगा.

10वीं क्लास की छात्रा दीप्ति शर्मा के मुताबिक ये अच्छा है कि परीक्षाएं दो चरणों में आयोजित की जा रही हैं. सिलेबस भी 50- 50 प्रतिशत बांटे जाने से परीक्षा का तनाव कम हुआ है. वहीं नई परीक्षा के नए तरीके को लेकर उत्सुकता भी बनी हुई है. दिल्ली में रहने वाले 12वीं कक्षा के छात्र उमंग अग्रवाल के मुताबिक बोर्ड परीक्षाओं का यह तरीका सभी छात्रों के लिए बिल्कुल नया है, इसलिए मन में कई प्रकार की दुविधा है. लेकिन इन परीक्षाओं को लेकर डर नहीं है. CBSE बोर्ड के मुताबिक 10वीं के 20 अंकों के इंटरनल मार्क्स को भी दस-दस नंबरों में बांटा गया है. वहीं 12वीं के लिए इसे 15-15 नंबरों के दो हिस्सों में बांटा गया है. इस बार छात्रों को अपनी पसंद के शहर में बोर्ड परीक्षाएं देने का अवसर भी दिया गया है. दरअसल, कोरोना की वजह से हजारों छात्र अपने शहर को छोड़कर दूसरी जगह पर चले गए. इनमें से कई छात्र अभी भी अपने गांव में रह रहे हैं, जबकि उनका स्कूल किसी दूसरे स्थान पर है. ऐसे में ये छात्र अपने नजदीकी स्कूल में परीक्षाएं दे सकेंगे. परीक्षा के दौरान छात्र कोरोना संक्रमित न हो इसके लिए भी खास इंतजाम किए गए हैं. CBSE के मुताबिक सभी परीक्षा केंद्रों में कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाएगा. एक केंद्र में ज्यादा से ज्यादा 350 छात्र ही परीक्षा दे सकते हैं. छात्रों के बीच छह फीट की दूरी रखी जाएगी. परीक्षा केंद्र में सभी छात्रों और टीचर्स को अनिवार्य तौर पर मास्क पहनना होगा. CBSE ने 10वीं और 12वीं क्लास के पहले चरण की बोर्ड परीक्षा की जो डेट शीट जारी की है उसके मुताबिक माइनर परीक्षा 16 व 17 नवंबर से शुरू हो रही हैं. वहीं मेजर विषयों की 12वीं क्लास की बोर्ड परीक्षा 1 दिसंबर से शुरू होंगी और 22 दिसंबर तक चलेंगी. 12वीं क्लास के छात्रों के लिए पहली परीक्षा Sociology और अंतिम परीक्षा होमसाइंस की है. ये परीक्षाएं सुबह 11 बजकर 30 मिनट से दोपहर 1 बजे तक होंगी. वहीं, 10वीं क्लास की मेजर विषयों की बोर्ड परीक्षाओं का पहला चरण 30 नवंबर से शुरू होगा. ये परीक्षाएं 11 दिसंबर को समाप्त होंगी. 10वीं क्लास के लिए पहली परीक्षा Social science और अंतिम परीक्षा अंग्रेजी की होगी. 12वीं के माइनर विषयों की परीक्षाएं 16 नवंबर से शुरू होने वाली हैं. जबकि सीबीएसई 10वीं टर्म-1 माइनर विषयों की परीक्षाएं 17 नवंबर से शुरू होंगी. वहीं 10 वीं के मेजर विषयों के पेपर 30 नवंबर से शुरू होने वाले हैं और 11 दिसंबर तक चलेंगे. 12वीं क्लास के मेजर विषयों की परीक्षा 01 दिसंबर से शुरू होंगी और 22 दिसंबर 2021 तक चलेंगी. सीबीएसई द्वारा जारी किए गए शेड्यूल के मुताबिक 30 नवंबर सुबह 11 बजकर 30 मिनट से दोपहर 1 बजे तक 10वीं की परीक्षाएं होंगी.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media