बांग्लादेश हिंसा: मुख्य आरोपी इकबाल हुसैन गिरफ्तार, दुर्गा पंडाल में रखी थी कुरान, CCTV से खुलासा

ABC NEWS: बांग्लादेश हिंसा (Bangladesh riots) का मुख्य आरोपी इकबाल हुसैन (Prime suspect Iqbal Hossain) को पुलिस ने कॉक्स बाजार (Cox’s Bazar) से गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया कि उसी ने कोमिल्ला में दुर्गा पंडाल में कुरान रखी थी, जिसके बाद पूरे देश में हिंदुओं (Hindu In Bangladesh) के खिलाफ दंगे शुरू हो गए.

पुलिस ने सीसीटीवी से उसकी पहचान कर उसे पकड़ने के लिए अपनी टीमें लगाईं थीं. गुरुवार रात वह पकड़ में आया. वहीं, उसकी गिरफ्तार के बाद परिवार ने कहा है कि इकबाल की मानसिक हालत ठीक नहीं है. किसी दूसरे ने उसकी इस बात का फायदा उठाते हुए कुरान रखने के लिए कहा होगा.

माना जा रहा है कि इकबाल ने सांप्रदाय‍िक सौहार्द को बिगाड़ने के लिए कुरान की प्रति को पंडाल में रखा और वह इसमें कामयाब भी हो गया. बता दें कि एक दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान रखे जाने की घटना के बाद बांग्‍लादेश जल उठा था. मुस्लिम कट्टरपंथियों की भीड़ ने दर्जनों मंदिरों में तोड़फोड़ की है और 7 लोग मारे भी गए हैं.

ढाका ट्रिब्यून (Dhaka Tribune) ने पुलिस के हवाले से बताया है कि इकबाल के पास कोई स्थायी नौकरी नहीं है. वह इधर-उधर घूमता रहता है. अभी यह साफ नहीं है कि उसका ताल्लुक किसी राजनीतिक पार्टी से है या नहीं. रिपोर्ट के मुताबिक, इकबाल की मां अमीना बेगम का दावा है कि उसके बेटे को ड्रग्स की लत है और वो अपने ही परिवार के सदस्यों को अलग-अलग तरीकों से परेशान करता रहता था.

कई जिलों में भड़की हिंसा के संबंध में अबतक 450 लोगों को अरेस्‍ट किया गया है. यही नहीं सांप्रदायिक हिंसा के 72 मामले दर्ज किए गए हैं. इस हिंसा के दौरान हजारों की संख्‍या में हिंदुओं के घरों और दुकानों को लूट लिया गया. कई मंदिर और दुर्गा पूजा पंडाल बुरी तरह से बर्बाद हो गए. इस बीच अमेरिका के धार्मिक स्‍वतंत्रता आयोग ने बांग्‍लादेश की घटना पर गहरी चिंता जताई है. उसने पीएम शेख हसीना से अपील की है कि वे दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें. बांग्‍लादेश की कुल आबादी में करीब 10 फीसदी हिंदू हैं.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media