अखिलेश ने बेटियों संग किया रोडवेज बस का सफर, होली मनाने लखनऊ से सैफई गये

ABC NEWS:  मिशन 2022 की तैयारी में जुटे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जनता के बीच पैठ बनाने के साथ अपने काम याद दिलाने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं. हाल-फिलहाल में उत्तर प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर उनकी मौजूदगी और आमजन के साथ उनके संवाद की तस्वीरें उनकी रणनीति बखूबी बयां करती हैं. अब रविवार को होली मनाने के लिए लखनऊ से अपने पैतृक घर सैफई जाने के दौरान आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर वह बीच सफर में अपने वाहनों का काफिला छोड़कर लखनऊ से दिल्ली जा रही रोडवेज बस में चढ़ गए. पुत्रियों अदिति और टीना के साथ 10 किलोमीटर तक सफर किया, यात्रियों के साथ संवाद भी किया.

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा कि ‘होली पर घर जाते हुए एक्सप्रेस-वे पर रोडवेज बस में यात्रा की. जितनी अच्छी सड़क बनाई, उतनी ही अच्छी बसों पर जनता का पूरा हक है, यही सोचकर हमने दुनिया की सबसे अच्छी बसें चलाने का निर्णय लिया था. वर्ष 2022 में आकर हम यूपी रोडवेज में हर जगह वर्ल्ड क्लास बस चलवाएंगे.’ इसके बाद ताल ग्राम कन्नौज के पास वह बस से उतरकर अपनी कार में बैठ गए. बस से उतरने से पहले उन्होंने चालक आदेश और परिचालक सुखवीर सिंह के कार्य की सराहना की और दोनों को 1000-1000 रुपये प्रोत्साहन स्वरूप दिए.
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने होली पर लखनऊ से अपने घर सैफई आते हुए रास्ते में लगभग 10 किमी तक रोडवेज बस में यात्रा की. वह कन्नौज से पहले रोडवेज बस में अपनी दोनों पुत्रियों अदिति यादव व टीना यादव के साथ रोडवेज की बस में बैठ गए. उन्होंने यात्रियों से संवाद किया और कहा कि इतनी अच्छी उन्होंने सड़क बनवाई थी उतनी अच्छी बसों पर जनता का पूरा हक है. यही सोचकर हमने अपनी सरकार में दुनियां की सबसे अच्छी बसें चलाने का फैसला लिया था. वर्ष 2022 में सरकार में आकर हम यूपी रोडवेज में हर जगह विश्व स्तरीय बसें चलवाएंगे. ताल ग्राम कन्नौज के पास वे बस से उतरकर अपनी कार में बैठ गए.
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव होली मनाने के लिए सपरिवार रविवार दोपहर बाद पैतृक गांव सैफई पहुंच गए. उन्होंने अपने आवास में बनाए गए मंच से कार्यकर्ताओं को होली की शुभकामनाएं दीं और कार्यकर्ताओं द्वारा केंद्र व प्रदेश सरकार की नाकामियों को लिखी कविताओं को मंच के माध्यम से सुना. इस अवसर पर अखिलेश यादव ने कहा कि आज के दौर में समाजवादियों को गांवों की परंपरा को कायम रखने की जरूरत है। क्योंकि इसे तोड़ने की खतरनाक साजिश पहले ही चल रही है. इसे और गहरा करने का प्रयास किया जा रहा है. उन्होंने पंचायत चुनाव के दौरान उम्मीदवारी के दौरान लोगों को सावधान रहने की अपील की और कहा कि भाजपा वाले गांवों कीपरंपरा को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं उसे सफल न होने देना.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media