इस देश में गर्मी से बचने को लगाए गए बाजारों में एसी, सड़कों पर हुई ब्लू कोटिंग

Spread the love

ABC News: धरती के सबसे गर्म देशों में शुमार कतर लोगों को भीषण गर्मी से बचाने के लिए नई तरकीब आजमा रहा है. फारस की खाड़ी में स्थित इस देश की राजधानी दोहा में सार्वजनिक स्थानों, बाजारों और खानपान की जगह एयर कंडीशनर लगाए जा रहे हैं. इसके साथ ही तापमान कम करने के लिए सड़क पर ब्लू कोटिंग की गई है. दोहा में तापमान 46 डिग्री सेंटीग्रेड पहुंचने के कारण आउटडोर शॉपिंग मॉल्स में बड़े-बड़े कूलर और एसी लगाए गए हैं, ताकि घरों से बाहर रहने या यहां से निकलने वाले लोग बाहरी तापमान सहन कर सकें.

दोहा के सबसे बड़े मार्केट के पास अब्दुल्ला बिन जासिम स्ट्रीट की ढाई सौ मीटर लंबी सड़क पर एक मिमी मोटी ब्लू रंग की परत बिछाई गई है. यह रंग काले के मुकाबले कम गर्मी सोखती है. इससे लंबे समय तक इसकी सतह ठंडी रहती है। इसमें विशेष हीट-रिफ्लेक्टिंग पिगमेंट भी मिलाया गया है. इंजीनियर साद अल-डोसारी के मुताबिक, डामर का तापमान वास्तविक तापमान से 20 डिग्री अधिक रहता है, क्योंकि काला रंग ऊष्मा को आकर्षित और प्रसारित करता है. यही नहीं, ठंडी हवा का प्रवाह बनाए रखने के लिए यहां अधिकतर रास्ते और गलियां उत्तर की तरफ मुख वाली बनाई जा रही हैं, ताकि उस दिशा से ठंडी हवा आ सके.

ज्यादा कार्बन उर्त्सजन बनेगा नई समस्या
सार्वजनिक स्थानों पर सैकड़ों की संख्या में एसी लगाने से कॉर्बन उत्सर्जन और ग्लोबल वार्मिंग का संकट बढ़ सकता है. कतर का औसत तापमान 2 डिग्री. तक अधिक है और यह प्री इंडस्ट्रियल लेवल के लिए ग्लोबल लक्ष्य 1.5 डिग्री तक अधिक है. यह लक्ष्य 2015 में पेरिस जलवायु परिवर्तन के तहत तय किया गया था. अगर ग्लोबल वार्मिंग 2 डिग्री तापमान तक बढ़ता है तो इसका असर कतर के तापमान पर पड़ेगा.
ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन बढ़ेगा
कतर पर्यावरण और एनर्जी रिसर्च इंस्टिट्यूट के डायरेक्टर मोहम्मद अयूब ने कहा कि इस कवायद से यहां का तापमान 4-6 डिग्री तक बढ़ सकता है. कतर विश्व में सबसे अधिक कॉर्बन उत्सर्जन वाला देश है. यह अमेरिका की तुलना में 3 गुना अधिक और चीन से 6 गुना तक अधिक है. शहर के बाहरी हिस्सों में एसी लगाने का मतलब है कि ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन और बढ़ेगा और यह ग्लोबल वार्मिंग के लिए खतरनाक है.

दोहा फारस की खाड़ी में प्रायद्वीप पर होने से इतना गर्म
दोहा इतना गर्म इसलिए है क्योंकि यह फारस की खाड़ी में प्रायद्वीप पर है. यहां पानी की सतह का तापमान 32 डिग्री के आसपास होता है. इससे शहर का तापमान 46 डिग्री तक पहुंच जाता है. समुद्र का तापमान बढ़ने पर यहां आर्द्रता भी बढ़ती जाती है.


यह भी पढ़ें…

सख्त हुआ Twitter, नेताओं के विवादित ट्वीट यूजर नहीं कर सकेंगे लाइक और शेयर

फरवरी 2020 तक ग्रे लिस्ट में रहेगा पाकिस्तान, FATF ने फेरा उम्मीदों पर पानी

अमेरिका की चेतावनी, पाकिस्तान बंद करे आतंकवाद वरना भुगतने होंगे गंभीर परिणाम


Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

*

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें FacebookTwitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-  ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media , Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login-  www.abcnews.media