फिल्म सिटी बसाने के लिए 2 प्राधिकरण ने शासन को दिया प्रस्ताव, कल होगी चर्चा

Spread the love

ABC NEWS: उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी बसाने के लिए यमुना प्राधिकरण एवं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने शासन को प्रस्ताव भेज दिया है. यमुना प्राधिकरण ने एक्सप्रेस वे से सटे सेक्टर 21 में फिल्म सिटी का प्रस्ताव दिया है. वहीं ग्रेटर नोएडा ने नाइट सफारी के लिए आरक्षित जमीन पर फिल्म सिटी बसाने का प्रस्ताव दिया है. शासन में मंगलवार को होने वाली फिल्म बंधुओं की बैठक में इन प्रस्तावों पर फिल्म इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों से चर्चा की जाएगी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी बसाने का ऐलान किया है. फिल्म इंडस्ट्री मुख्यमंत्री की इस घोषणा को हाथोंहाथ ले रही है.

फिल्म सिटी बसाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा, ग्रेटर नोएडा एवं यमुना प्राधिकरण से प्रस्ताव मांगे थे. यमुना प्राधिकरण एवं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अपने प्रस्ताव शासन को भेज दिए हैं. एक हजार एकड़ जमीन का प्रस्ताव भेजा यमुना प्राधिकरण ने सेक्टर 21 में एक हजार एकड़ जमीन पर फिल्म सिटी का प्रस्ताव दिया है. सेक्टर 21 यमुना एक्सप्रेस वे से सटा होने के साथ जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के भी बेहद नजदीक है. प्राधिकरण ने सेक्टर में अभी भूखंड आवंटन भी शुरू नहीं किया है. सेक्टर में 780 एकड़ जमीन औद्योगिक गतिविधि के लिए आरक्षित है, जबकि 220 एकड़ जमीन वाणिज्यक उपयोग के लिए आरक्षित है. यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि शासन को फिल्म सिटी का प्रस्ताव भेज दिया गया है. अंतिम फैसला शासन स्तर से लिया जाएगा.

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने फिल्म सिटी के लिए नाइट सफरी के लिए आरक्षित भूमि का प्रस्ताव शासन को भेजा है. हालांकि यमुना प्राधिकरण के सापेक्ष नाइट सफारी की जमीन 260 एकड़ है. यमुना एक्सप्रेस वे से सटी हुई है. नाइट सफारी परियोजना लगभग खत्म हो चुकी है. इसलिए प्राधिकरण ने फिल्म सिटी बसाने के लिए इसका प्रस्ताव दिया है. फिल्म सिटी के लिए भूमि औद्योगिक श्रेणी में आवंटित होगी. अन्य श्रेणी की तुलना में औद्योगिक श्रेणी में भूखंड दरें सबसे कम हैं. ऐसे में इंडस्ट्री के लोगों को इसका सीधा फायदा मिलेगा.

प्रस्तावों पर मंगलवार को होगी चर्चा

दोनों प्राधिकरण के प्रस्ताव पर मंगलवार को लखनऊ में चर्चा होगी. फिल्म बंधु की मंगलवार को बैठक होनी है. इसमें फिल्म इंडस्ट्री के प्रतिनिधि शामिल होंगे. प्राधिकरण के प्रस्तावों पर चर्चा के बाद किसी एक पर मुहर लग सकती है. इसके बाद फिल्म सिटी को बसाने के लिए आगे की प्रक्रिया पर चर्चा होगी.

पूर्व में भी दिखा चुके हैं रुचि

फिल्म इंडस्ट्री के लोग पूर्व में भी यमुना प्राधिकरण क्षेत्र को लेकर रुचि दिखा चुके हैं. बोनी कपूर ने यमुना प्राधिकरण के अधिकारियों से संपर्क किया था. उन्होंने क्षेत्र का निरीक्षण भी किया था, लेकिन मामला आगे नहीं बढ़ा.

खबरों से जुड़े लेटेस्ट अपडेट लगातार हासिल करने के लिए आप हमें  Facebook, Twitter, Instagram पर भी ज्वॉइन कर सकते हैं … Facebook-ABC News 24 x 7 , Twitter- Abcnews.media Instagramwww.abcnews.media

You can watch us on :  SITI-85,  DEN-157,  DIGIWAY-157


For more news you can login- www.abcnews.media